कानपुर@प्रधानमंत्री की रैली में बवाल की साजिश रचने के आरोपित आठ सपा नेताओं व समर्थकों के खिलाफ लगा गैंगस्टर

36
Share


कानपुर ,05 जनवरी 2022 (ए)। उत्तरप्रदेश के कानपुर में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की रैली में बवाल की साजिश रचने के आरोपित आठ सपा नेताओं व समर्थकों के खिलाफ गैंगस्टर लगाया गया है। यह कार्रवाई अबतक हुई जांच और आरोपितों के आपराधिक रिकार्ड को देखते हुए पुलिस आयुक्त असीम अरुण के आदेश पर की गई है।
28 दिसंबर को प्रधानमंत्री जब निराला नगर में जनसभा को संबोधित कर रहे थे, उसी दौरान एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें कुछ सपा नेता कार्यकर्ताओं के साथ भाजपा के बैनर पोस्टर से सजी एक कार में तोडफ़ोड़ करते नजर आ रहे थे। वायरल वीडियो के आधार पर पुलिस ने जब जांच शुरू की तो सामने आया कि असल में जिस गाड़ी में तोडफ़ोड़ की गई,वह सपा नेता अंकुर पटेल की थी। साजिश सपा की छात्र सभा के राष्ट्रीय सचिव आवास विकास कालोनी नौबस्ता निवासी सचिन केसरवानी ने रची थी।
पुलिस अब तक शुकांत शर्मा (पूर्व नगर प्रवक्ता मुलायम सिंह यूथ ब्रिगेड), लेबर कालोनी दादानगर निवासी अभिषेक रावत (नगर सचिव मुलायम सिंह यूथ ब्रिगेड) और निकेश कुमार यादव (सपा युवजन सभा के पूर्व जिलाध्यक्ष) समेत अंश, जितेंद्र उर्फ जीतू व अरुण को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। इन सबके खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई की गई है। पुलिस आयुक्त ने बताया कि आरोपितों में से कई का आपराधिक रिकार्ड है। इस लिहाज से उनके खिलाफ गैंगस्टर के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। गैंगस्टर एक्ट की धारा 14-ए के तहत अवैध तरीके से कमाई गई संपत्ति को जब्त करने की प्रक्रिया भी शुरू करने को कहा गया है। अगर जांच में साबित हुआ कि यह कृत्यआरोपितों ने नेतागिरी चमकाने नहीं बल्कि बवाल कराने के लिए किया था तो राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत भी मुकदमा दर्ज किया जाएगा।


Share