कर्नाटक @ राज्य में लगेगा लॉकडाउन

32
Share


कर्नाटक ,02 जनवरी 2022 (ए)। कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रॉन दुनिया के लिए चिंता का विषय बना हुआ है. ओमिक्रॉन की वजह से दुनिया के कई देशों कोरोना की नई लहर शुरू हो चुकी है. हर दिन लाखों नए केस रिपोर्ट किये जा रहे हैं. भारत में भी ओमिक्रॉन तेजी से पांव पसार रहा है. देश में कोरोना के इस नए वेरिएंट के 1500 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं. कर्नाटक में भी रोजाना आने वाले कोविड के नए मामलों में अचानक हुई वृद्धि और यह संख्या एक हजार के पार जाने के बाद राज्य के मंत्री ने सरकार द्वारा सख्त नियम लागू करने के संकेत दिए हैं. राज्य सरकार ने संक्रमण को रोकने के लिए 7 जनवरी तक रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू किया है. कर्नाटक के राजस्व मंत्री आर अशोक ने बताया, ‘हम बैठक करेंगे और सात जनवरी से पहले कुछ सख्त नियमों की घोषणा करेंगे जब रात का कर्फ्यू हटाया जाना है
राजस्व मंत्री आर अशोक ने कहा कोविड-19 पर गठित सरकारी समिति जिसमें वह और उच्च शिक्षामंत्री डॉ.सीएन अश्वथ नारायण और स्वास्थ्य मंत्री डॉ.के सुधाकर शामिल हैं, सात जनवरी से पहले बैठक करेगी. उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य पर गठित विशेषज्ञ समिति भी मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई को उठाए जाने वाले कदमों की जानकारी देगी. अशोक ने कहा, ‘हम समिति की सिफारिशों को पूरी तरह से लागू करेंगे क्योंकि हमले पिछली बार पीड़ा और मौतें देखी हैं.’
मंत्री ने कहा कि सरकार इस बार ऑक्सीजन की आपूर्ति , बिस्तर और दवाओं की उपलब्धता में कोई खामी नहीं छोड़ेगी. उन्होंने कहा, ‘हम सभी जरूरी व्यवस्था करेंगे. हम सतर्क हैं और सभी जरूरी व्यवस्था हमारे मुख्यमंत्री के नेतृत्व में करेंगे.’ उन्होंने कहा कि देश में पहले ही महामारी की तीसरी लहर की स्थिति उत्पन्न हो गई है और कर्नाटक में मामलों में वृद्धि गंभीर मुद्दा है. अशोक के मुताबिक केंद्र द्वारा जारी सूची में बेंगलुरु रेड जोन में शामिल हैं. उन्होंने कहा, केंद्र सरकार की सूची के मुताबिक बेंगलुरु रेड जोन में है. यह जरूरी है कि बेंगलुरु सतर्क रहे. हम लोगों की जान बचा सकते हैं अगर हम बेंगलुरु में और पाबंदी लगाएं व अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या कम करें.


Share