नई दिल्ली @ आज होगी चुनाव आयोग की महत्वपूर्ण बैठक

44
Share


कोरोना के हालात पर होगी चर्चा


नई दिल्ली 26 दिसम्बर 2021 (ए)। साल 2022 की शुरुआत में 5 राज्यों (उत्तर प्रदेश, पंजाब, त्रिपुरा, गोवा और मणिपुर) में विधान सभा चुनाव होने हैं. लेकिन ऐसे में कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन का खतरा भी बढ़ने लगा है. ओमिक्रॉन ने सरकार के साथ-साथ चुनाव आयोग की भी चिंता बढ़ा दी है. ऐसे हालातों में चुनावी रैली कोरोना संक्रमण को बढ़ा सकते हैं.
कोरोना हालातों पर होगी बैठक
भारत निर्वाचन आयोग 27 दिसंबर को 11 बजे सचिव राजेश भूषण सहित स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक बैठक बुलाएगा. इस बैठक में 5 राज्यों में आगामी विधान सभा चुनावों के लिए मौजूदा कोविड-19 स्थिति पर चर्चा होगी.
तारीखों के ऐलान से पहले हालात जानना चाहता है
चुनाव आयोग
कुछ दिनों पहले ही चुनाव आयुक्त ने कहा था कि वे चुनावी राज्य यूपी का दौरा करेंगे और हालातों का जायजा लेने के बाद ही चुनाव की तारीखों का ऐलान करेंगे.
चुनाव आयोग को झेलनी पड़ी थीं आलोचानाएं
अप्रैल 2021 में पश्चिम बंगाल में विधान सभा के चुनाव कराये गए थे. सभी पार्टियों की ओर से हुई रैली में भारी भीड़ उमड़ती थी. 8 चरणों में होने वाले चुनाव का छठा चरण आते-आते कोरोना विस्फोट बंगाल में होने लगा. कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी से हुई वृद्धि के लिए चुनाव आयोग की खूब आलोचना हुई. आलोचनाओं के बाद चुनाव आयोग को प्रचार अभियान को सीमित करना पड़ा था. रैलियों पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया था. चुनाव आयोग इस बार नहीं चाहता कि बंगाल चुनाव की तरह उसे फिर से आलोचना झेलनी पड़े.
इस वजह से अहम रहेगी यह बैठक
केंद्रीय चुनाव आयोग की बैठक इस वजह से भी जरूरी मानी जा रही है, क्योंकि इस बैठक से कुछ दिन पहले ही इलाहाबाद हाई कोर्ट ने चुनाव आयोग और प्रधानमंत्री से अपील की थी कि वह कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के खतरे को देखते हुए रैलियों और रोड शो पर रोक लगाएं. अगर मुमकिन है तो चुनावों को भी टाला जाए. वैसे तो इलाहाबाद हाई कोर्ट इसको लेकर कोई आदेश भले ही न दिया हो, लेकिन हाई कोर्ट ने जिस तरह से केंद्रीय चुनाव आयोग और प्रधानमंत्री से अपील की है तो निश्चित तौर पर उसके बाद से केंद्रीय चुनाव आयोग के ऊपर भी एक अतिरिक्त जिम्मेदारी बढ़ गई है. अब चुनाव आयोग को यह तय करना है कि अगर ओमिक्रोन के खतरे के बीच चुनाव संपन्न करवाने हैं तो वह कैसे करवाए जाएं.


Share