कोरबा@एसईसीएल हेलीपैड के पास पेड़ों की कटाई कर किया जा रहा बेजा कब्जा

40
Share

राजा मुखर्जी-
कोरबा ०2 जनवरी 2022 (घटती-घटना)। कोरबा में एसईसीएल हेलीपैड के पास ऑक्सी-ज़ोन को नष्ट करने के साथ ही यहां पर बेजा कब्जा करने की होड़ सी लग गई है। विरोध करने पर लोग मारपीट पर उतारू हो रहे हैं।कोरोना कालखंड
मैं लोगों ने अच्छे से जाना के जिंदगी के लिए ऑक्सीजन कितनी जरूरी है,इन सबके बावजूद व्यक्तिगत स्वार्थ के लिए लोग पर्यावरण की बलि चढ़ाने का काम वर्तमान में कर रहे है ढ्ढ एसईसीएल हेलीपैड के पीछे की जमीन पर बीते वर्षों में वृहद पौधारोपण किया गया जहां पर अब हरे भरे पेड़ अपनी उपस्थिति दर्ज कराए हूए हैं। शहरी क्षेत्र में यह ऑक्सी-ज़ोन क्षेत्र लोगों के लिए संजीवनी साबित हो रहा है, लेकिन स्वार्थ में अंधे हो चुके लोगों ने यहां बेजा कब्जा के नियत से पेड़ों की कटाई छटाई शुरू कर दी है। इसके अलावा इलाके को हड़पने की नीयत से अलग-अलग तौर तरीके अपनाकर स्थान की मार्किंग की जा रही है। यह सब आखिर क्यों हो रहा है इस बारे में किसी के पास जवाब नहीं है। मामले की जानकारी होने पर नेहरू नगर वार्ड के पार्षद शैलेंद्र सिंह यहां पहुंचे।, उन्होंने बताया कि पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने का गंदा खेल किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं होने देंगे। कई स्तर पर इसकी शिकायत की गई है । प्रशासन ने हमें ठोस कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।पार्षद ने इस बात से इंकार किया कि जो लोग यहां पर बेजा कब्जा करने की होड़ में शामिल हैं उनके पास खुद के मकान नहीं है। दरअसल ऐसे लोग एक जगह पर कब्जा करने के बाद उसे बेचने का काम भी करते हैं। हनुमान मंदिर के पुजारी भगत ने बताया कि पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने से मना करने पर संबंधित लोग बदतमीजी पर उतर आते हैं।कोरबा क्षेत्र में कई स्थानों पर सरकारी और सार्वजनिक उपक्रमों की जमीन पर लगातार कब्जा हो रहा है। भविष्य में विभिन्न परियोजनाओं पर काम करने के लिए ऐसी जमीनों को संरक्षित करना अत्यंत आवश्यक है, इसलिए जिला प्रशासन को इस मामले में कठोर कार्रवाई करने की आवश्यकता है।


Share