अम्बिकापुर@युवक पर एफआईआर दर्ज कराने के लिए कांग्रेसी नेताओं को थाने में देना पड़ा धरना

60
Share

अम्बिकापुर 20 अक्टूबर 2021 (घटती-घटना)। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार रहते भी कांग्रेसियों नेताओं को थाने में एफआईआर दर्ज कराने में जद्दोजहद करनी पड़ रही है। मंगलवार की देर रात कांग्रेस कार्यकर्ताओं को एक कथित कांग्रेस कार्यकर्ता के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के लिए गांधीनगर थाने के दहलीज पर धरने पर बैठना पड़ा।
नगरीय प्रशासन मंत्री व सरगुजा के प्रभारी मंत्री शिव डहरिया अंबिकापुर प्रवास पर थे। सोमवार की दोपहर जब प्रभारी मंत्री राजीव भवन में कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर गांधी चौक स्थित सर्किट हाउस पहुंचे तो इस दौरान कांग्रेस पार्टी का एक कथित नेता आदर्श बंसल भी सर्किट हाउस पहुंच कर मंत्री के इर्द-गिर्द घूमने लगा। इस दौरान कुछ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आदर्श बंसल पर भाजपा का नेता होने पर आपत्ति जताई और उसे सर्किट हाउस से जाने को कहा, लेकिन कथित कांग्रेस कार्यकर्ता सर्किट हाउस से जाने से मना कर दिया। इस बात को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ता और आदर्शन बंसल के बीच नोक झोंक हाथा पाई भी हुई। इसी बीच मौके पर मौजूद सरगुजा कांग्रेस जिला कमेटी के अध्यक्ष राकेश गुप्ता ने बीच बचाव किया और आदर्शन बंसल को सर्किट हाउस से जाने को कहा। जिला अध्यक्ष के कहने पर कथित कांग्रेस नेता सर्किट हाउस से चला गया और मंगलवार की शाम आदर्श बंसल गांधीनगर थाने में कांग्रेस नेता विकल झा, शुभम जायसवाल, मिथुन सिंह व विकास केसरी के खिलाफ धारा 294, 506, 323 व 34 के तहत अपराध दर्ज कराया है। इसके बाद देर रात को कांग्रेसी कार्यकर्ता अपने बड़े नेताओं के साथ गांधीनगर थाना आदर्शन बंस के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने पहुंचे। लेकिन गांधीनगर पुलिस इस बात पर अड़ गई कि पहले मामले की जांच होगी फिर मुकदमा दर्ज होगा। इस बात से नाराज युवा कांग्रेसी कार्यकर्ता गांधीनगर थाना परिसर के चौखट पर धरने पर बैठ गए। इधर मामला गर्म होता देख पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों और कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं को देर रात गांधीनगर थाने आना पड़ा। तब जाकर गांधीनगर पुलिस ने आदर्श बंसल के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया।


Share