बैकु΄ठपुर @कोरिया पनिका समाज ने अनुसूचित जनजाति में सम्मिलित करने हेतु सौंपा ज्ञापन

94
Share

रवि सिंह –

बैकु΄ठपुर 09 अक्टूबर 2021 (घटती-घटना)। मुख्यमंत्री के पिता नंद कुमार बघेल को अपने प्रवास के दौरान पनिका समाज जिला कोरिया के सामाजिक प्रतिनिधियों से मुलाकात किया तथा उनके समस्याओं को सुना समस्या में मुख्य बात रखी गई, जो कि पनिका जाति पूर्व में आदि काल से तत्कालिक संपूर्ण मध्य प्रदेश में अनुसूचित जनजाति वर्ग में थी, क्योंकि उनका रहन-सहन खान-पान सामाजिक धर्म संपूर्ण रूप से आदिवासी समाज की तरह शादी विवाह संपूर्ण किया कलाप उनके अनुरूप स्थिति शासन में भागीदारी में पूर्ण रुप से कमजोर हो चुकी है, जो कि तत्कालिक शासन काल में राजनीतिक एवं षड्यंत्र करके पनिका समाज को सन 1971 में संपूर्ण मध्य प्रदेश के 45 जिलों में से 8 जिलों को छोड़कर शेष जिला को आदिवासी वर्ग से बिना नोटिफिकेशन जारी किए वंचित कर दिया गया है। जिससे पनिका समाज का मध्य प्रदेश और विभाजित छत्तीसगढ़ में रहन-सहन का स्तर काफी निचले स्तर का हो गया है तथा आर्थिक विकास एवं शैक्षणिक विकास में निरंतर कमी आने के कारण पनिका समाज को आज पुनः अनुसूचित जनजाति वर्ग में सम्मिलित करने का समय आ गया है पनिका समाज बुनकर थे और बुनकर का कार्य कर अपना जीवन यापन करते थे यहां पर भी प्रदेश के शासन से षडयंत्र पूर्वक इनके मूल रोजगार को उन से वंचित किया गया जिससे उनकी आर्थिक स्थिति काफी कमजोर हो गई एवं जीवन यापन करने के लिए काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। पढ़े लिखे शिक्षित बेरोजगारों को भी यथसंभव शासकीय सेवा में भागीदारी नहीं हो पा रही है संपूर्ण पहलुओं को ध्यान में रखते हुए छत्तीसगढ़ शासन माननीय मुख्यमंत्री जिसे इस संदर्भ में पांच हजार कार्यकर्ताओं के प्रतिनिधि मंडल करते थे, यहां पर भी प्रदेश के शासन से संयंत्र पूर्वक उनके मूल रोजगार को उन से वंचित कर दिया गया, जिससे उनकी आर्थिक स्थिति काफी कमजोर हो गई एवं जीवन यापन करने की काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है, छत्तीसगढ़ शासन में माननीय मुख्यमंत्री से इस संदर्भ में पांच हजार कार्यकर्ताओं को प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री से सन 2012 में चर्चा की है परंतु अभी तक सकारात्मक पहल नहीं हो पाई है हमें विश्वास है कि वर्तमान मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ के द्वारा पनिका समाज को अनुसूचित जनजाति में सम्मिलित करने हेतु पहल करेंगे ऐसे हमें संभावना एवं पूर्ण विश्वास है परंतु अभी तक सकारात्मक पहल नहीं होने के कारण 25 लाख पनिका समाज काफी दुखी हो एवं चिंतित है। मुख्यमंत्री के पिता नंद कुमार बघेल का आगमन कोरिया में हुआ, तत्पश्चात पनिका समाज जिला कोरिया के द्वारा पनिका जाति को पूर्व की भारतीय आदिवासी वर्ग में शामिल किए जाने हेतु मांग पत्र माननीय नंद कुमार बघेल को मांग पत्र सौंपा गया, इस अवसर पर जिला अध्यक्ष पनिका समाज सत्यनारायण गोयल, रमेश पंथ, धर्म प्रकाश परिवार, रामधन देवांगन, सुकुल मरई, श्रीमती रूपालता गोयन, विनोद गोयन, अरुण गोयन, संतोष पड़वार, महावीर दीवान, लाल दास महंत, हरिप्रसाद, दिनेश कांशी, ननकू पनिका, वनसजीवन, लाल दास महंत एवं कोरिया के पनिका समाज के अन्य सदस्यगण उपस्थित थे।


Share