नई दिल्ली/रायपुर@भूपेश को लखनऊ एयरपोर्ट से बाहर जाने से रोका,जमीन पर बैठे भूपेश

27
Share


नई दिल्ली/रायपुर ,05 अक्टूबर 2021(ए)। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री और यूपी के वरिष्ठ पर्यवेक्षक भूपेश बघेल को लखनऊ एयरपोर्ट से बाहर निकलने की भी इजाजत नहीं मिली। एयरपोर्ट के सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें रोक दिया। इस दौरान भूपेश बघेल लाउंज के कजमीन पर ही बैठ गए।
दरअसल,छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सोमवार को यूपी सरकार के द्वारा उनके विमान को लैंडिंग की परमिशन नहीं दिए जाने के बाद दिल्ली पहुंचे। जहां उन्होंने लखीमपुर कांड को लेकर भाजपा और योगी सरकार को जमकर घेरा।
वहीं आज दोपहर 12:00 बजे के बाद छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री और उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ पर्यवेक्षक भूपेश बघेल दिल्ली से लखनऊ के लिए उड़ान भरी। इस दौरान उन्होंने कहा कि किसानों के साथ न्याय होकर ही रहेगा। जिसे उन्होंने ट्वीटर पर साझा भी किया। ष्टरू भूपेश ने लिखा- “मैं लखनऊ के लिए निकल चुका हूँ। किसानों के साथ न्याय होकर रहेगा।
भूपेश बघेल लखनऊ के चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट पहुंचे। जब भूपेश बघेल एयरपोर्ट से बहार निकलने लगे तो उन्हें एयरपोर्ट के सुरक्षा अधिकारियों ने बाहर निकलने से रोक दिया। भूपेश बघेल ने सुरक्षा अधिकारियों से रोके जाने का कारण पूछा लेकिन कोई जवाब नहीं मिला और न ही उनके पास कोई लिखित आदेश की कॉपी मिली। इस दौरान ष्टरू बघेल ने सुरक्षा अधिकारीयों से कहा कि धरा 144 लखीमपुर में लगी है न की लखनऊ में। उन्होने ये भी कहा कि मैं लखीमपुर नहीं बल्कि प्रदेश कांग्रेस कार्यालय जाऊंगा,जहां के लिए कोई रोक नहीं होनी चाहिए। इसके बाद बी जब सुरक्षा अधिकारी उनकी बात नहीं मानी तो वे एयर पोर्ट के लाउंज में जमीन पर ही बैठ गये। भूपेश बघेल ने ये सारा वाक्या अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर करने के बाद सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है। भूपेश ने लिखा- “बिना किसी आदेश के मुझे लखनऊ एयरपोर्ट से बाहर जाने से रोका जा रहा है।”

भूपेश बघेल के लखनऊ एयरपोर्ट पर धरना देने पर नेता प्रतिपक्ष का बयान, बोले- किसी को माहौल खराब करने काअधिकार नहीं

भूपेश बघेल द्वारा लखनऊ एयरपोर्ट पर धरना दिए जाने पर नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक का बयान सामने आया है। उन्होंन कहा कि एक सोची समझी रणनीति के तहत कांग्रेस के द्वारा राजनीतिक रोटी सेकने के लिए यह नौटंकी की जा रही है। माहौल बिगाड़ने का काम कर रहे हैं।


Share