मनेन्द्रगढ़@महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री की जयंती मनाई एकेडमिक हाईट्स ने

39
Share

मनेन्द्रगढ़ 03 अक्टूबर 2021 (घटती-घटना)। मनेंद्रगढ़ शहर में स्थित विद्यालय एकेडमिक हाइट्स पब्लिक स्कूल के द्वारा गांधी जयंती और लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती के उपलक्ष्य पर एक अलग ही झलक देखने को मिली इस विद्यालय के बच्चों में अपनी बढ़-चढ़कर भागीदारी ली और बच्चों ने अलग-अलग तरह के कार्यक्रमों में अपनी भागीदारी सुनिश्चित की जिसमें बच्चों ने भाषण सॉन्ग गाना प्रश्नोत्तरी चित्रकला जैसे अलग-अलग तरह के कार्यक्रमों में भाग लिया और बच्चों ने मानव श्रृंखला के रूप में चरखा बनाया और बच्चों ने उस चक्र के माध्यम से अहिंसा का संदेश दिया और विद्यालय के प्राचार्य पी रविशंकर जीके मार्गदर्शन में इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया प्राचार्य इस तरह के कई कार्यक्रमों का आयोजन समय-समय पर इस विद्यालय में करवाते रहते हैं इस कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए विद्यालय के संचालक संजीव ताम्रकार आशीष कक्कड़, आशी कक्कड़ ज्योति ताम्रकार ने बच्चों की उज्जवल भविष्य की कामना की और विद्यालय के सभी शिक्षकों को बधाई दी। बच्चों ने बहुत ही सुंदर माध्यम से बताया कि महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री का जन्म एक ही दिन हुआ था और 2 अक्टूबर को दोनों की जयंती मनाई जाती है।महात्मा गांधी ने पूरी दुनिया को यह सीख दी है कि बिना किसी हिंसा के कोई भी लड़ाई लड़ी जा सकती है। महात्मा गांधी भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के एक प्रमुख राजनैतिक एवं आध्यात्मिक नेता थे।वही दूसरी ओर शास्त्री जी का नाम इतना ऊंचा कि उनके मरने के बाद भी वो हर हिंदुस्तानी को प्रेरित करते हैं। शास्त्री जी अपनी ईमानदारी और व्यवहार कुशलता के चलते बेहद लोकप्रिय थे। बहुत ही कम समय में शास्त्री जी ने अपनी नीतियों और प्रभावशाली नारों के साथ राष्ट्र का स्वरूप बदल दिया। उन्होंने 1965 में भारत-पाक युद्ध के दौरान जय जवान, जय किसान का नारा लगाया ।विश्‍व में महात्‍मा गांधी के कार्यों को इस बात से समझा जा सकता है कि जिस देश से भारत को आजादी दिलाने के लिए उन्होंने लड़ाई लड़ी, उसी ने उनके सम्मान में डाक टिकट जारी किया। गांधी जी के निधन के 21 साल बाद ब्रिटेन ने उनके नाम पर पहली बार डाक टिकट जारी किया।


Share