रायपुर @ मतगणना के लिए उल्टी गिनती शुरू

38
Share


आयोग की तैयारी पूरी,प्रत्याशियों की बढ़ी धड़कने


रायपुर ,22 दिसम्बर 2021 (ए)। छत्तीसगढ़ में 15 निकायों के 385 वार्डों में हुए निकाय चुनाव की मतगणना गुरुवार सुबह 9 बजे से शुरू होगी। माना जा रहा है कि सभी केंद्रों से करीब 3 बजे तक गणना खत्म हो जाएगी।
छत्तीसगढ़ राज्य निर्वाचन आयोग ने 23 दिसम्बर को होने वाली मतगणना की तैयारियों को पूरी कर ली है। जिसमे मतगणना स्थल पर सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की गई। आयुक्त ठाकुर राम सिंह ने कहा कि सभी मतगणना केन्दों में सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम, बिजली की व्यवस्था के लिए जनरेटर,सहित स्ट्रांग रूम, मतगणना स्थल औऱ मतगणना कक्ष पर अग्निशमन की व्यवस्था की गई है।
निर्वाचन आयुक्त की माने तो मतगणना कक्ष पर मोबाइल सहित अन्य इलेक्ट्रानिक उपकरणों का इस्तेमाल पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। केवल कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी, सामान्य प्रेक्षक और रिटर्निंग आफिसर ही बहुत आवश्यक परिस्थितियों में मोबाइल का उपयोग कर सकेंगे। उन्होने कहा कि मतगणना से संबंधित सभी अधिकारी, कर्मचारी नियमों-अधिनियमों का प्रशिक्षण दिया गया है, ताकि सभी कार्यवाही सुचारु रूप से सम्पन्न हो सके। संभावना जताई जा रही है कि सुबह 11 बजे के बाद ही रुझान मिलना शुरू हो जायेगा। बुधवार को मतगणना का अंतिम रिहर्सल भी किया गया है।
बीरगांव में तैयारी पूरी
बीरगांव में 40 वार्ड के लिए 40 टेबल लगाए जाएंगे और सभी प्रत्याशियों के एजेंटों को एक-एक मतपत्र दिखाकर मतपत्रों के बंडल बनाए जाएंगे। चुनाव में कुल 95 बूथ बनाए गए थे इसलिए हर बूथ की एक पेटी के हिसाब से गिनती के लिए कुल 95 मत पेटी होगी। इन मतों की गिनती के लिए स्ट्रांग रूम से बारी- बारी से 40 मत पेटी मतगणना स्थल पर लाई जाएगी और इसे सभी 40 टेबल पर पहुंचाया जाएगा। हर वार्ड में 2 से 5 बूथ हैं इसलिए अधिकतम 5 राउंड की गिनती के बाद मतगणना का कार्य पूरा हो जाएगा।
टेबल पर प्रत्याशी या एजेंट होंगे मौजूद
मतगणना स्थल पर जाली के बाहर राजनीतिक दलों व निर्दलीय प्रत्याशियों के एजेंट बैठे होंगे। मतगणना कर्मचारी इन सभी एजेंटों को एक- एक मतपत्र दिखाएंगे और मतपत्र के 20-20 के बंडल तैयार किए जाएंगे। इन बंडलों को संबंधित दलों व प्रत्याशियों के बाक्स में डाल दिया जाएगा। इस तरह से राउंडवार गिनती का काम पूरा होगा। हर राउंड की गिनती के बाद एसीओ के पास आंकड़े ले जाए जाएंगे। इसके बाद दलवार चार्ट बनाया जाएगा। मतगणना अधिकारी वार्ड वार और राउंडवार प्रत्याशियों को मिले मतों की घोषणा करेंगे। गणना पूरी होने के बाद ही अंतिम नतीजे घोषित किए जाएंगे।
पोस्टल बैलेट से शुरू होगी गणना
मतगणना स्थल पर 9 बजे से पहले पोस्टल बैलेट की मतपेटी पहुंच जाएगी। 9 बजे के बाद पोस्टल बैलेट यानि निर्वाचन कर्तव्य मतपत्र स्वीकार नहीं किए जाएंगे। इसके लिए अलग से टेबल लगाए जाएंगे। मतगणना के दिन सबसे पहले पोस्टल बैलेट की गिनती होगी। नोटा में मिले मतों को अविधिमान्य मत के रूप में गिना जाएगा।
कोविड प्रोटोकॉल का पालन
मतणना स्थल पर कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन अनिवार्य किया गाया है । अधिकारियों कर्मचारियों, अभ्यर्थियों की ओर से नियुक्त काउंटिंग एजेंट का वैक्सीनेटेड होना अनिवार्य है। वैक्सीनेशन प्रमाण पत्र के बिना कोई भी व्यक्ति काउंटिंग एजेंट नहीं बन पाएगा। मतगणना स्थल पर मीडिया केंद्र बनाए जाएंगे ताकि मीडिया को आसानी से जानकारी दी जा सके। इन केंद्रों से मतगणना की राउंडवार जानकारी मीडिया को दी जाएगी।


Share