बैकुण्ठपुर@बिल्डर संजय अग्रवाल के विरुद्ध फिर शिकायत लेकर सामने आए संजय जायसवाल

175
Share

अग्रवाल सिटी में भूमि विक्रय कूटरचना कर बेचे जाने का बिल्डर पर लगा रहें हैं आरोप

रवि सिंह-
बैकुण्ठपुर 09 जनवरी 2022 (घटती-घटना)। बैकुंठपुर नागरिक एकता मंच के अध्यक्ष नगरपालिका बैकुंठपुर के वार्ड क्रमांक 20 के पार्षद संजय अग्रवाल ने बैकुंठपुर नगरपालिका सीएमओ को पत्र लिखकर यह मांग की है कि बैकुंठपुर में स्थित अग्रवाल सिटी जो बिल्डर संजय अग्रवाल उनकी पत्नी व उनके पिता द्वारा पालटिंग करके बेची गई जमीन पर बनी कालोनी है उसके समस्त दस्तावेज उन्हें उपलब्ध कराए जाएं। उन्होंने आरोप लगाया है कि यह पूर्ण भूमि खरीदी बिक्री जो कि गई है उसके संबंध में सिंचाई विभाग बैकुंठपुर द्वारा पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है और इस कालोनी में सिंचाई विभाग की नहर की भूमि है और नहरों को पाटकर जमीन बिक्री की गई है जिसकी शिकायत सिंचाई विभाग द्वारा भी दर्ज कराई गई है। बता दें कि संजय जायसवाल बैकुंठपुर नगरपालिका चुनावों में वार्ड क्रमांक 20 से निर्दलीय पार्षद के रूप में चुनाव जीतकर आये हैं और वह बैकुंठपुर में गठित नागरिक एकता मंच के अध्यक्ष भी हैं जिसका गठन ही बैकुंठपुर के शासकीय भूमियों के निजी अतिक्रमण को लेकर किया गया था और जिसके अंतर्गत यह मंच एकबार आंदोलन भी कर चुका है। संजय जायसवाल ने नगरपालिका बैकुंठपुर के सीएमओ को पत्र लिखकर कुछ दस्तावेजों की मांग की है और उन्होंने यह भी अपने आवेदन में लिखा है कि चूंकि किसी भूमि का प्लाटिंग कर उसका विक्रय करना कालोनाइजर नियम का पालन करके बिक्री किया जाना चाहिए जो इस मामले में नहीं किया गया है जो कि गलत है।

संजय जायसवाल ने मांगे हैं नगरपालिका बैकुंठपुर से महत्वपूर्ण दस्तावेज

नागरिक एकता मंच के अध्यक्ष संजय जायसवाल ने अपने पत्र के माध्यम से नगरपालिका बैकुंठपुर सीएमओ से कॉलोनाइजर नियम 2013 के तहत कई दस्तावेज मांगे हैं जो अग्रवाल सिटी से जुड़ा दस्तावेज है। उन्होंने अग्रवाल सिटी का विकास अनुज्ञा पत्र मांगा है जो की नगर व ग्राम निवेश द्वारा जारी किया गया है।नगर निवेश द्वारा स्वीकृत ले आउट प्लान की प्रति की उन्होंने मांग की है, ई डब्लू एस के तहत नगरपालिका को प्राप्त भूमि की प्रति भी अग्रवाल सिटी से संबंधित उन्होंने मांगी है, उन्होंने कॉलोनाइजर की तीन लाख की बैंक गारण्टी अग्रवाल सिटी से सम्बंधित भी मांगी है,संजय जायसवाल ने नगरपालिका में जमा अनुज्ञा शुल्क की रसीद भी मांगी है जो अग्रवाल सिटी से संबंधित है, कॉलोनाइजर ने आंतरिक विकास क्या किया है इसकी भी जानकारी उन्होंने मांगी है। नगरपालिका के अभियंता के द्वारा अग्रवाल सिटी के स्वीकृत नक्शे की वह कॉपी भी मांगी गई है उनके द्वारा जिसमें अभियंता की तरफ से रिपोर्ट लगी हो। कितना शुल्क नगरपालिका को अग्रवाल सिटी मामले में मिला सभी की रसीद भी उन्होंने मांगी है।

लोक आयोग सहित पुलिस थाने में दर्ज करवायेंगे मामला

संजय जायसवाल ने पत्र में लिखा है कि सभी जानकारी जुटाकर वह पुलिस थाना और लोक आयोग में शिकायत दर्ज कर कार्यवाही की मांग करेंगे क्योंकि उन्हें लगता है अग्रवाल सिटी मामलें में बड़े स्तर पर कूटरचना कर जमीन की हेरा फेरी की गई है और सिंचाई विभाग की नहर पर कालोनी बसाई गई है।


Share