बैकुण्ठपुर@एक व्यक्ति ने पीडब्ल्यूडी कार्यालय में मौजूद ठेकेदार पर ताना राइफल

92
Share

रिवाल्वर से गोली मारने की धमकी का मामला पहुंचा थाने

बैकुण्ठपुर 5 जनवरी 2022 (घटती-घटना)। लोक निर्माण विभाग मनेंद्रगढ़ में इन दिनों ठेकेदारों का बोलबाला चल रहा है राजनीतिक संरक्षण प्राप्त कुछ ठेकेदारों द्वारा अपना सर्वाधिकार बनाए रखने के लिए क्षेत्र के अन्य ठेकेदारों पर काम नहीं करने का दबाव बना रहे है, इसका जीता जागता उदाहरण बीते मंगलवार को चिरमिरी निवासी मनराज मौर्य पीडब्ल्यूडी कार्यालय में निकली निविदा के लिए टेंडर फॉर्म खरीदने गए थे उसी दौरान कहीं से घूमते हुए स्थानीय ठेकेदार नशे में धुत शंभू नारायण झा पहुंच कर नाम लेकर गाली देते हुए अपने पास रखें राइफल और रिवाल्वर रखकर गोली मारने की धमकी देने लग गया जिसको लेकर शांत और सौम्य मनेंद्रगढ़ में लोगों में दहशत का माहौल है।
विदित रहे कि मदनगढ़ लोक निर्माण कार्यालय में हो रही भरा शाही और मनमानी किसी से छुपी नहीं है बताया जाता है कि सत्ता पक्ष के संरक्षण प्राप्त कुछ ठेकेदारों ने अपना साम्राज्य बनाने के लिए नए-नए हथकंडे अपना रहे हैं इसी क्रम में झारखंड से कुछ दिन पहले आए ठेकेदार शंभू नाथ झा भी अपना दबदबा बनाने के लिए ठेकेदारों को धमकाने चमकाने का कार्य काफी दिनों से कर रहा है नाम न छापने की शर्त पर ठेकेदारों ने बताया कि लगभग पिछले सभी ट्रेनों में या टेंडर नहीं मिलने की स्थिति में गोली मारने की धमकी देता है और अधिकारियों एवं ठेकेदारों पर दबाव बनाता है, पहले तो बात केवल मुंह से होती थी इस गुंडा मानसिकता के व्यक्ति की हौसले इतने बढ़ गए कि यह बीते मंगलवार को चिरमिरी निवासी मनराज मौर्य को सीधे बंदूक दिखाकर उसमें गोली लोड करते हुए सीधे गोली चलाने की कोशिश कर रहा था तभी मौके पर उपस्थित और अंधेरा और उनके सहयोगी उसे खींच कर के कार में बैठा दिए वरना कोई अनहोनी हो सकती थी जिसको लेकर पूरे कोरिया जिले में को भी उत्तर प्रदेश और बिहार के तर्ज पर रंगदारी करने का यहां पर प्रयास किया जा रहा है इसको लेकर सभी ठेकेदारों में भारी आक्रोश व्याप्त है जल्द ही एक प्रतिनिधि मंडल क्षेत्रीय विधायक से मिलकर मुख्यमंत्री तक ज्ञापन देने की भी योजना बना रहे और सभी ठेकेदारों ने ऐसे असामाजिक तत्व पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। चिरमिरी निवासी मनोज मौर्य ने बताया कि उन्होंने इस पूरे घटनाक्रम की शिकायत मने नगर थाने में दर्ज करा दी है और एसडीओपी मनेंद्रगढ़ से मिलकर पूरी घटना का विस्तार से बताया है नगर निरीक्षक के बाहर होने से एसडीओपी साहब ने तत्काल कार्यवाही कर कथित अपराधी को गिरफ्तार कराने की बात कही है।


Share