प.स्वा. केन्द्र केशगवां मे चार वर्षों से आरएचओ गायब,कलेक्टर से हुई खोजने की शिकायत

225
Share

  • रवि सिंह –
    बैकु΄ठपुर 29 सितम्बर 2021 (घटती-घटना)। कोरिया जिला अन्तर्गत वि.ख. सोनहत के उपस्वास्थ्य केंद्र केशगवां मे पदस्थ आरएचओ महिला कर्मचारी पिछले चार वर्षों से गायब है। इस संबंध में शुक्रवार को सरपंच सहित सैकड़ों ग्रामीणों की हस्ताक्षरयुक्त शिकायत पत्र लेकर भाजयुमो मण्डल महामंत्री रमेश तिवारी कलेक्टर कोरिया से मिलने पहुंचे। शिकायत पत्र के मुताबिक ग्राम पंचायत केशगवां मे उपस्वास्थ्य केंद्र में महिला आरएचओ यसोदा कुशवाहा वर्तमान में पदस्थ है। परंतु सम्बंधित विभाग इस कर्मचारी से लगभग चार वर्षों से किसी अन्य स्थान उपस्वास्थ्य केंद्र टेंगनी पटना मे कार्य ले रहा है तथा उक्त कर्मचारी को वेतनमान उपस्वास्थ्य केंद्र केशगवां से ही दिया जा रहा है। उक्त कर्मचारी के मूल पदस्थापना स्थान में न होने से संम्बन्धित हर कार्य बाधित है। जिससे उप स्वा. का लाभ ग्रामवासियों को नहीं मिल पा रहा है तथा अन्य सभी समस्याओं को ध्यान में रखते हुए कलेक्टर कोरिया से तत्काल निवारण करने की मांग की है। इस दौरान भाजयुमो मण्डल अध्यक्ष मनोज साहू भी उपस्थित रहे।

  • आदेश जारी कर आदेश को संसोधन करना कहा तक सही?

  • सौपे गए शिकायत पत्र के साथ इसी संबंध में स्वा.विभाग द्वारा जारी आदेश व संसोधित आदेश की भी छाया प्रति संलग्न किया गया है। यह आदेश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी बैकुंठपुर कोरिया द्वारा 6/08/21 को पत्र क्रं.423 जारी किया गया था कि जिले भर में जो कर्मचारी कार्य आदेशित स्थान मे कार्य कर रहे हैं उन्हें तत्काल अपने मूल पदस्थापना पर कार्य मुक्त करते हुए भेजा गया था परंतु इसी दिनांक को संबंधित विभाग द्वारा आदेश को पत्र क्रं.426 मे संसोधित करते हुए पत्र जारी किया गया जिसमें केवल वि.ख सोनहत या केशगवां उप स्वा. केंद्र मे पदस्थ कर्मचारी को छोड़कर अन्य सभी को कार्य मुक्त करते हुए मूल पदस्थान पर भेजा गया। जबकि विभाग को पता है कि केशगवां मे पदस्थ आरएचओ यसोदा कुशवाहा लगभग चार वर्षों से अपने मूल पदस्थापना से कार्यादेशित स्थान पर कार्यरत हैं। ऐसे में सवाल यह उठता है की क्या केशगवां मे आरएचओ की आवश्यकता नहीं है या फिर यह कर्मचारी कीसी बड़े पैमाने की सरंक्षण पर चल रही है?

  • वि.ख. के बाहर आरएचओ को क्यों किया गया अटैच
    सबसे बड़ा सवाल तो यह है कि वि.ख. सोनहत अन्तर्गत पदस्थ कर्मचारी को आखिर विभाग ने कीन कारणों से कीसी अन्य ब्लॉक में कार्यादेशित किया क्या उस कर्मचारी से वि.ख के अंदर ही कार्य नहीं लिया जा सकता था? क्या संबंधित कर्मचारी अपने निवास स्थान के नजदीक ही कार्य करना चाहती थी? क्योंकि जानकारी के मुताबिक कार्यादेशित स्थान से उक्त कर्मचारी का निवास स्थान काफी नजदीक है। अगर ऐसा है तो कर्मचारी को अपना तबादला करवा लेना चाहिए था।
    पहले भी हो चुकी हैं मांग
    ग्रामीणों एवं संरपच ने बताया कि हमने इस समस्या को लेकर पहले भी संबंधित अधिकारियों से उचित पहल की मांग की है फिर भी आज तक कोई पहल नहीं हुआ है।
    इस संबंध में भाजयुमो महामंत्री रमेश तिवारी ने कहा है कि उक्त महिला कर्मचारी को जिला प्रशासन तत्काल उप स्वा. केंद्र केशगवां मे भेजे या इनका तबादला कर नए कर्मचारी को पदस्थ करें। क्यों की ग्रापं केशगवां मे स्वा. सबंधित समस्याएं लगातार बनी रहती है।
    रमेश तिवारी (भाजयुमो महामंत्री)

गांव की स्वास्थ्य संबंधित समस्या काफी है प्रशासन से अपील की है कि गांव के उप स्वा. केंद्र मे वर्तमान में कर्मचारी नहीं है इसकी व्यवस्था अधिकारी करें जिससे की उप स्वा. केंद्र का लाभ ग्रामवासी ले सके। इस समस्या को दुर करने हमने पहले भी प्रयास किया है किन्तु आज तक यह समस्या बनी हुई है।
मानमती सिंह (सरपंच केशगवां)

जिंप कोरिया के सभापति भाजपा जिला मंत्री व किसान नेता दृगपाल सिंह ने इस विषय पर कहा कि मै शनिवार को पार्टी के एक कार्यक्रम में सोनहत भाजपा कार्यालय में सभी भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ सम्मालित हुआ था। इस दौरान एक कार्यकर्ता ने केशगवां उप स्वा. केंद्र से संबंधित इस प्रकार की समस्या बताई है।यह समस्या गांव के हिसाब से बड़ी है। मै ज्लद ही अधिकारियों से मिलकर इस विषय पर बात करूंगा। सामाधान न होने पर भाजपा कार्यकर्ताओं व ग्रामीणों के साथ मिलकर उचित व्यवस्था की मांग को लेकर आंदोलन भी करुंगा।
दृगपाल सिंह (जिंप सदस्य कोरिया)


Share