दुर्गम क्षेत्रों में अब आसानी से बनेंगे आधार कार्ड

45
Share


रायपुर,२७ सितम्बर २०२१ (ए)। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल पर बस्तर अंचल के बीजापुर जिले में ग्रामीणों के लिए आधार कार्ड बनाने हेतु विशेष इंतजाम किए गए हैं। जिला प्रशासन और चिप्स के द्वारा ग्रामीणों को आधार कार्ड तेजी से उपलब्ध कराने के लिए 40 आपरेटरों की नियुक्ति की गई है।
चिप्स के मुख्य कार्यपालक अधिकारी समीर विश्नोई ने बताया कि बीजापुर जिले के अनेक दुर्गम और संवेदनशील क्षेत्रों में ग्रामीणों के पास आधार कार्ड नहीं होने के कारण अनेक शासकीय योजनाओं का लाभ दिलाने में कठिनाईयां आ रही थी। ग्रामीणों को अधार कार्ड बनाने के लिए जगदलपुर अथवा तेलंगाना के वारंगल जिले में जाना पड़ता था।
जिला प्रशासन और चिप्स के द्वारा ग्रामीणों की इस समस्या के निराकरण के लिए आधार कार्ड बनाने के लिए आपरेटरों की नियुक्ति की गई है।
बीजापुर कलेक्टर रितेश अग्रवाल ने बताया कि नए आपरेटरों की भर्ती के बाद बीजापुर के दुर्गम क्षेत्रों आकलंका, पिनकोंडा, पोंदूम, बड़ेतुंगली, मिरतुर, कुटरु, गोमला, मनकेली, रेड्डी, गंगालूर, चेरपाल, बासागुड़ा, तारलागुड़ा, बारेगुड़ा व संड्रा में आधार कार्ड तैयार कराने का काम आसानी से हो सकेगा।


Share