पुलिस ने नशे के 280 नग कैप्सूल किया बरामद

Share

राजा मुखर्जी-

कोरबा 26 सितम्बर 2021 (घटती-घटना)। पुलिस अधीक्षक कोरबा भोजराम पटेल द्वारा सभी थाना एवम चौकी प्रभारियों को अपराधिक गतिविधियों तथा अवैध धंधों में लिप्त अपराधियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही किए जाने , जिले में सामुदायिक पुलिसिंग के अंतर्गत अभियान चलाकर आम जनता को नशाखोरी एवं अन्य सामाजिक बुराइयों के दुष्प्रभाव के बारे में बता कर इन बुराइयों से दूर रहने की समझाइश देने एवं इस कारोबार में लिप्त अपराधियों पर कठोर कार्यवाही किए जाने के निर्देश दिए गए हैं ।
पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल द्वारा दिए गए उपरोक्त निर्देश के पालन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक वर्मा के नेतृत्व नगर पुलिस अधीक्षक कोरबा योगेश साहू, नगर पुलिस अधीक्षक लितेश सिंह एवं अनुविभागीय अधिकारी कटघोरा ईश्वर त्रिवेदी के पर्यवेक्षण में जिले के समस्त थाना /चौकी प्रभारियों द्वारा अभियान चलाकर लगातार कार्यवाही किया जा रहा है । इसी क्रम में थाना प्रभारी कुसमुंडा निरीक्षक लीलाधर राठौर को दिनांक – 25.09.2021 को मुखबिर से सूचना मिली कि दो लड़के सीआईएसएफ कैंटीन विकासनगर के पास नशीली दवाईयां रखकर बिक्री कर रहे है । इस सूचना पर घटनास्थल विकासनगर सीआईएसएफ कैंटीन के पास जाकर दो लड़कों को 2 अलग अलग मोटर सायकल के साथ संदिग्ध हालत में पकड़ कर पूछताछ किया गया , जिन्होंने अपना नाम मोहन राजपूत ऊर्फ छोटू पिता स्व. ओमप्रकाश उम्र 20 वर्ष सर्वमंगलानगर दुरपा व मनीष कौशिक पिता अशोक कौशिक उम्र 22 वर्ष निवासी वैशालीनगर कुसमुण्डा का होना बताये । जिनकी तलाशी लेने पर मोहन राजपूत ऊर्फ छोटू के पास से 6 स्ट्रीप में 48 नग पाईवोन स्पास प्लस नीला रंग का केप्सूल तथा मनीष कौशिक के पास से 29 स्ट्रीप में 232 नग नीला रंग वाले पाईवोन स्पास प्लस कैप्सूल कुल 280 नग कैप्सूल बरामद हुआ , दोनो संदिग्ध लड़को से उक्त नशीली दवाईयों के बारे में पूछताछ करने पर आनाकानी करने लगे, किन्तु सख्ती से पूछताछ करने पर नशीली दवाईयों को बेचने के लिये रखना तथा ग्राहक इंतजार करना बताये।मौके पर ही आरोपीगण से बरामद 280 नग कैप्सूल एवं 2 मोटरसाइकिल एवं 2 नग मोबाइल जप्त कर धारा 22 नारकोटिक्स एक्ट के अंतर्गत विधिवत कार्यवाही कर आरोपीगण को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेजा जा रहा है। बरामद कैप्सूल कुल वजन 187.3 ग्राम है, जिसका वास्तविक बाजार मूल्य करीब 2 हजार रुपए है। किंतु आरोपीगण द्वारा प्रति कैप्सूल 200 रुपए में बचा जाता था इस तरह इसका मूल्य करीब 80 हजार रुपए है ।
उपरोक्त कार्यवाही में निरीक्षक थाना प्रभारी लीलाधर राठौर, सउनि रफीक खान, परमेश्वर राठौर, आरक्षक गंगाराम डांडे, आशीष साहू, वीरेंद्र पटेल, विकास कोसले ,लव पात्रे ,योगेश राजपूत,महेन्द्र चंद्रा, सुनील जोशी, संजय तिवारी, खगेश्वर साहू की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।
उक्त टेबलेट के सेवन से हल्की सी नींद आती है और हल्का नशा का एहसास होता है । बिना डॉक्टर के सलाह के टेबलेट का सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है । नशा करने वालों के द्वारा टेबलेट का उपयोग नशे के रूप में किया जाता है । कोरबा पुलिस क्षेत्र के युवाओं से अपील करती है, किसी भी तरह की नशीली दवाओं का उपयोग कर अपना स्वास्थ्य खराब न करें न ही खरीदी बिक्री
करें , स्वस्थ समाज के निर्माण के लिये नशा से दूर रहना अति आवश्यक है।


Share

Check Also

कोरिया@ब्राह्मण समाज ने कराया 27 बटुकों का उपनयन संस्कार

Share पटना हनुमान मंदिर परिसर में किया गया आयोजन।संभाग भर के बटुक परिवार समेत हुए …

Leave a Reply

error: Content is protected !!