पुलिस ने बंद फैक्ट्री में मारा छापा, 3 करोड़ की चांदी-तांबा जब्त

49
Share


वैध दस्तावेज नहीं मिलने पर पुलिस हिरासत में आरोपी अभिषेक जैन


रायपुर,23 सितम्बर 2021 (ए)। रायपुर में धातुओं की तस्करी और उन्हें गलाकर काला बाजार में बेचने का बड़ा खुलासा हुआ है। खुफिया इनपुट के आधार पर यह काम करने वाले 24 वर्षीय व्यवसायी अभिषेक जैन को पकड़ा गया है ।यह युवक रायपुर के पेंशन बड़ा के पॉश इलाके का रहने वाला है।
पुलिस ने इसकी बंद फैक्ट्री में छापा मारकर गिरफ्तार किया है। आरोपी के पास से पूरे 3 करोड़ का माल मिला है। आरोपी के पास से 3 करोड़ रुपये का माल बरामद किया गया है, जिसमें 383 किलो चांदी और 2 टन तांबा शामिल है। संदेह है कि यह चोरी और स्मगल कर लाई गई धातु है।
फैक्ट्री के मेन गेट पर
लगा था ताला
पुलिस को सूचना मिली थी कि थाना कबीरनगर में सोंडोंगरी कान्हा रेस्टोरेंट के पीछे स्थित ज्योतिका रिफाइनरी नाम की एक बंद फैक्ट्री में अवैध रूप से चांदी और तांबा को गलाया जा रहा है।
पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल ने सूचना को गंभीरता से लिया। उन्होंने साइबर सेल के वीरेंद्र चंद्र और कबीर नगर थाने की टीम अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर तारकेश्वर पटेल, अधीक्षक पश्चिम आकाश राव और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध अभिषेक माहेश्वरी को जांच के लिए भेजा। इनपुट के आधार पर टीम ज्योतिका रिफाइनरी फैक्ट्री पहुंची। मेन गेट पर ताला लगा हुआ था, जो मात्र दिखावा था। दरअसल, बाहर से फैक्ट्री बंद लगे और किसी को कोई शक न हो कि अंदर क्या हो रहा है, इसलिए जानबूझकर मेन गेट पर ताला जड़ा था।
बंद फैक्ट्री में
चल रही थी धातुओं को
गलाने की तैयारी
अधिकारियों की टीम फैक्ट्री के पिछले हिस्से के खुफिया गेट से अंदर पहुंची और छापेमारी की। पुलिस टीम को फैक्टी के अंदर एक व्यक्ति मिला जो धातुओं को गलाने की तैयारी कर रहा था। उसने अपना नाम अभिषेक जैन बोला। अभिषेक पेंशन बाड़ा कोतवाली का रहने वाला है। करोड़ों के धातुओं का कोई बिल या वैध दस्तावेज अभिषेक दिखा नहीं कर रहा।
इतनी मात्रा में चांदी और तांबा कहां से आया, ये जानकारी भी पुलिस को नहीं दिया, लिहाजा आरोपी अभिषेक जैन को गिरफ्तार किया। उसके कब्जे से कुल 383 किलोग्राम चांदी सहित चांदी का चूरा तथा करीब 2 टन ताम्बे का चूरा जब्त किया।
पुलिस के मुताबिक इन धातुओं की बाजार में कीमत करीब 3 करोड़ रुपये है।


Share