कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कोरिया में पार्टी के गतिविधियों को कैसे करेंगे सही?

190
Share


सत्ता रहते हुए भी दुखी कार्यकर्ता की बात कैसे पहुंचेगी प्रदेश अध्यक्ष के पास

रवि सिंह –


बैकु΄ठपुर 22 सितम्बर 2021 (घटती-घटना)। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम का आगमन आज होना है जिसके लिए बैठक भी राजीव गांधी भवन में रखी गई थी और कार्यक्रम की रूपरेखा भी तैयार की गई है प्रदेश अध्यक्ष का पहले घड़ी चौक पर स्वागत होगा उसके बाद वह राजीव गांधी भवन आएंगे जहां राजीव गांधी जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर नवनिर्मित राजीव भवन में प्रवेश करेंगे जहां पर पदाधिकारियों से चर्चाएं होंगी उसके बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस रखा गया है उसके बाद कार्यकर्ता सम्मेलन किया जाएगा। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष के आगमन को लेकर तैयारियां कर ली गई हैं पर इनके आने पर कांग्रेस के अंदर खाने में जो चल रहा है वह सही हो पाएगा या नहीं नाराज पदाधिकारी अपनी बात सही तरीके से रख पाएंगे या नहीं नाराज कार्यकर्ताओं की बातें प्रदेश अध्यक्ष तक पहुंच पाएंगी या नहीं ऐसे कई सवाल है जो प्रदेश अध्यक्ष के सामने आने वाली है क्योंकि सत्ता और संगठन के बीच काफी दूरियां चल रही हैं उन दूरियों को किस हद तक सही कर पाते हैं यह भी एक बड़ा सवाल है।
कांग्रेस को सत्ता प्राप्त किये अब तीन साल होने को हैं, 15 साल तक विपक्ष में रहकर कांग्रेस का झंडा उठाने वाले कई कार्यकर्ता सरकार बनने के बाद से उपेक्षित चले आ रहें हैं। प्रदेश अध्यक्ष के सामने ऐसे पदाधिकारी व कार्यकर्ता जिनकी कहीं कोई पूछपरख नहीं हो रही है वह भी जाकर अपनी व्यथा बताने की तैयारी कर रहें हैं। अब देखने वाली बात होगी कि नाराज और सत्ता व संगठन से भी उपेक्षित कार्यकर्ताओ और पदाधिकारियों को प्रदेश अध्यक्ष से मिलकर अपनी बात रखने का मौका मिल पाता है या नहीं। वहीं कुछ नाराज कार्यकर्ताओ का कहना है प्रदेश अध्यक्ष को सभी से विचार विमर्श करना चाहिए बहोत सारी बातें हैं जो कई पार्टी पदाधिकारि उनसे साझा करना चाहते हैं। वहीं सभी कार्यकर्ता व पदाधिकारी चाहते हैं कि उनकी बात सुनकर प्रदेश अध्यक्ष निर्णय लेकर उसका समाधान करें। वैसे कोरिया जिले में कांग्रेस संगठन की कमान सम्हालने वाले जिलाध्यक्ष भी कार्यकर्ताओं की सुध नहीं लेते ऐसे आरोप लगातार लगते आ रहें हैं वही अब जब खुद प्रदेश अध्यक्ष जिले में आ रहें हैं कार्यकर्ताओं के मन मे उत्साह है कि प्रदेश अध्यक्ष जरूर उनकी व्यथा सुनकर निराकरण कर उन्हें भी सत्ता व संगठन में मान दिलाने का प्रयास करेंगे। प्रदेश अध्यक्ष से अकेले मिलकर भी अपनी समस्या बताने वाले कई पार्टी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं द्वारा उनसे मिलने के प्रयासों की खबरें सामने आ रहीं हैं,अपनी समस्या और शिकायतों को लेकर कई पदाधिकारी व कार्यकर्ता यह चाहते हैं कि प्रदेश अध्यक्ष उनसे मिलने का उन्हें अलग से समय प्रदान करें, जिससे वह खुलकर अपनी बात उनके सामने रख सकें।


Share