पाकिस्तानी प्रवासियों के लिए बिजली कनेक्शन की याचिका हुई दायर

42
Share


दिल्ली हाई कोर्ट ने केंद्र और दिल्ली सरकार से मांगा जवाब


नई दिल्ली ,21 सितंबर 2021 (ए)। दिल्ली हाईकोर्ट ने पाकिस्तान से आए करीब 800 हिंदू प्रवासियों और पिछले कुछ सालों से यहां रह रहे लोगों के लिए बिजली कनेक्शन की मांग वाली याचिका पर मंगलवार को केंद्र, दिल्ली सरकार और टाटा पावर से जवाब मांगा।
चीफ जस्टिस डी.एन. पटेल और जस्टिस अमित बंसल की बेंच ने गृह मंत्रालय और रक्षा मंत्रालय, दिल्ली सरकार, उत्तरी दिल्ली नगर निगम, दिल्ली विद्युत नियामक आयोग, टाटा पावर दिल्ली वितरण लिमिटेड और उत्तरी दिल्ली के जिलाधिकारी से याचिका पर जवाब दाखिल करने को कहा। हाईकोर्ट ने मामले को आगे की सुनवाई के लिए 22 अक्टूबर को सूचीबद्ध किया है। याचिका में 200 हिंदू अल्पसंख्यक प्रवासी परिवारों के लिए बिजली कनेक्शन की मांग की गई है, जिसमें लगभग 800 लोग शामिल हैं, जो वर्तमान में उत्तरी दिल्ली के आदर्श नगर इलाके में दिल्ली जल बोर्ड मैदान में रह रहे हैं। भारत में पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के अल्पसंख्यक प्रवासियों के कल्याण के लिए काम करने वाले याचिकाकर्ता हरिओम ने कहा कि इस मामले में प्रवासी पाकिस्तान से हैं, ज्यादातर सिंध प्रांत से हैं और पिछले कुछ सालों से यहां बिना बिजली के रह रहे हैं। प्रवासी जो अपने धार्मिक उत्पीड़न के कारण पाकिस्तान से भारत आए हैं, उनका मानना था कि भारत आने से उनके बच्चों को एक उज्ज्वल और सुरक्षित भविष्य मिलेगा, लेकिन झुग्गी में बिजली के बिना उनके वर्तमान अस्तित्व ने उनके सार्थक अस्तित्व के सभी सपनों को चकनाचूर कर दिया है।


Share