कम्युनिस्ट पार्टी ने किया श्रद्धांजलि सभा का आयोजन

35
Share


अम्बिकापुर 17 सितम्बर 2021 (घटती-घटना)। आज 17 सितंबर 2021 को चीता लाता भूमि आंदोलन शहीद दिवस के अवसर पर लुंड्रा क्षेत्र के राई खुर्द में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी द्वारा एक छोटा सा श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया शुरू में क्षेत्र के वरिष्ठ साथी कामरेड पोटल राम के द्वारा झंडोत्तोलन किया गया इसके पश्चात पुष्पांजलि अर्पित की गई की गई और 2 मिनट का मौन धारण कर शाहिद हूत आत्माओं को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इसके पश्चात एक संक्षिप्त आमसभा हुई। आम सभा को साथी रोशन नगेसिया, नीलम सिंह, अली राम राजवाड़े ,कृष्ण कुमार सुरेंद्र गुरुजी ,अनंत सिन्हा, बजरंगी लाल ,बलवीर नागेश ,अधिवक्ता संजय सिंह, महिला नेत्री श्रीमती नीलम सिंह ,श्रीमती मीना सिंह, रामलाल हसदा आदि ने संबोधित किया सभी वक्ताओं ने कवल साय, पिछड़ी बाई को अपनी विनम्र श्रद्धांजलि दी तथा देश में मोदी भाजपा सरकार की किसान विरोधी जनविरोधी मजदूर विरोधी नीतियों की आलोचना की। वक्ताओं ने कहा कि लगभग 9 महीने से दिल्ली बॉर्डर पर संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा किसान बचाओ खेती बचाओ आंदोलन चल रहा है इस आंदोलन के द्वारा तीन श्रम कानून और नया बिजली कानून रद्द करने की मांग की जा रही है और इस आंदोलन में लगभग 655 किसान अभी तक शहीद हो चुके हैं किंतु मोदी सरकार के कानों में जूं नहीं रेंग रही है और मोदी सरकार तानाशाही रवैया अपना रही है इस आम सभा में सभी वक्ताओं ने हरियाणा की खट्टर सरकार की निंदा की तथा किसानों पर लाठी चला कर के उन्हें घायल करने और एक किसान को मार डालने के संबंध में मुख्यमंत्री खट्टर पर और खास करके तत्कालीन एसडीएम सिन्हा जिस ने की खट्टर सरकार के निर्देश पर लाठीचार्ज का आदेश दिया था पर हत्या का मुकदमा अपराधिक प्रकरण चलाए जाने की मांग की हालांकि आम सभा में इस बात पर संतोष व्यक्त किया गया की किसानों की बड़ी विजय हुई है और लाठी कांड की जिसमें एक किसान की मृत्यु हुई और कई किसान घायल हो गए की न्यायिक जांच की मांग को माना गया है और मृतक किसान के परिवार को ₹2500000 मुआवजा देने की बात मानी गई है तथा घायल किसानों को ₹200000 मुआवजा देने की बात मानी गई है आम, सभा का सफल संचालन, समापन एवं धन्यवाद ज्ञापन छत्तीसगढ़ किसान सभा के सरगुजा जिला समिति के सचिव साथी सीपी शुक्ला ने किया


Share