कांग्रेस का हुआ कार्यकर्ता सम्मेलन,विधायक के कामकाज पर दिखी नाराजगी

469
Share


पीडि़त कार्यकर्ताओं ने कहां भाजपा शासन में कम परंतु अपने शासनकाल में ज्यादा हो रही है परेशानी

पृथवीलाल केशरी-


रामानुजगंज 20 सितम्बर 2021 (घटती-घटना)। जिले के राजपुर ब्लाक में कांग्रेस का बूथ स्तरीय कार्यकर्त्ता सम्मलेन में नेताओं व कार्यकर्ताओं के बीच विधायक के कामकाज को लेकर नाराजगी दिखी। एक कार्यकर्त्ता ने तो यहां कह दिया कि जिसके पास पैसा है विधायक उसका है। हमें भाजपा सरकार में जितनी परेशानी नहीं हुई उससे अधिक अब हो रहा है। कार्यकर्ताओं ने यह भी कहा कि चुनाव में कड़ी मेहनत कर उन्होंने विधायक बनाया है लेकिन उनकी पूछ परख नहीं हो रही है। इस दौरान कार्यकर्ताओं को कांग्रेस कमेटी के जिला अध्यक्ष राजेंद्र तिवारी ऐसा बोलने से रोकने की कोशिश करते दिखे। जिलाअध्यक्ष राजेंद्र तिवारी ने संबोधित करते हुए कहा कि आप सबों के अथक प्रयास से ही कांग्रेस की सरकार बनी है और यह प्रयास सतत् चलना चाहिए ताकि न केवल प्रदेश में बल्कि देश में भी कांग्रेस की सरकार बने हर बूथ पर दोगुनी ताकत से मेहनत करनी है बुथ सेक्टर और जोन का नए सिरे से गठन करना है,ब्लॉक स्तर पर बुलाई गई मीटिंग का मकसद यही है कि संगठन को और मजबूत किया जाए आप सबों की बात सुनी जाए आप सबों की राय ली जाए और आप सबों की बात और राय प्रदेश स्तर तक पहुंचाई जाएगी आप इस सरकार की ताकत है जिला अध्यक्ष ने प्रदेश सरकार के कामकाज की तारीफ करते हुए कई कामों की सूची गिनाई और कहा कि ब्लॉक अध्यक्ष ने आप सबों को राज्य सरकार द्वारा चलाए जा रहे कामों की पूरी सूची तैयार करके सौंपी है उसके बारे में गांव के लोगों को बताएं कि हमारी सरकार कितना अच्छा और बेहतर काम कर रही है। इस दौरान वरिष्ठ कांग्रेसी के.पी.सिंह ने कहा कि, बैठक में एक बात समझ आया कि आप सभी मुखिया से नाराज हैं। काफी मेहनत किए उन्हें जीताने में आप लोग जिसका विरोध कर रहे हैं अगले चुनाव में पार्टी आप सबसे रायशुमारी करेगी और फिर टिकट दी जाएगी। संगठन के ब्लाक प्रभारी अजय सोनी ने कहा कि बूथ स्तर पर काग्रेस मजबूत होगी तो हम सब मजबूत होंगे सरकार रहने पर सब की पूछ परख होती है अच्छा काम हो रहा है सरकार के स्तर पर और संगठन के स्तर पर इस ब्लॉक में जो काम हो रहा है वह दूसरे ब्लॉक के लोगों के लिए भी अनुकरणीय है ऐसा काम हर ब्लाक में होना चाहिए आज जो बातें कार्यकर्ताओं के बीच से आई है उसे हम हर स्तर पर पहुंचाने की कोशिश और प्रयास करेंगे और हमारे लिए खुशी की बात है कि कार्यकर्ता अपनी बात मुखर होकर कह रहे हैं और संगठन के लिए यह ब्लॉक बेहतर काम करता रहा है और चुनाव में अच्छे परिणाम देते रहा है मैं अपनी शुभकामनाएं देता हूं कि आने वाले समय में भी यह सिलसिला यूं ही जारी रहे। राजपुर ब्लाक अध्यक्ष सुनील सिंह ने कहा कि ज़ब कांग्रेस सत्ता में होती है तो कांग्रेस के कार्यकर्ताओं का महत्व बढ़ जाता है, कार्यकर्ताओं के ऊपर दोहरी जवाबदेही होती है उन्हें ज्यादा मेहनत करना होता है क्योंकि हर कार्यकर्ता वह अपने पदाधिकारियों और सत्ता में बैठे लोगों से काफी उम्मीदें होती हैं और जनता कार्यकर्ता से भी बहुत सारी अपेक्षाएं रखने लगते हैं ऐसे में कार्यकर्ताओं को सबको साथ लेकर चलने की जिम्मेदारी और सब को संतुष्ट करने की भी जिम्मेदारी बढ़ जाती है। कार्यकर्ताओं के बिना कांग्रेस की सरकार नहीं बन सकती है। पिछले चुनाव में आप सब कार्यकर्ताओ ने ही भाजपा की गलतियों को उजागर कर जनता तक पहुंचाया और कांग्रेस की सरकार बनी। अब हमें कांग्रेस को बूथ स्तर पर भी और अधिक मजबूत करना है। हालत कितने भी खराब हों, हमको आपको हर हाल में मिलजुल कर भाजपा से लड़ना है समाज को बांटने वाली नीतियों के विरुद्ध एकजुट रहना है। कांग्रेस के लोग जहां भी खड़े होते हैं वहां विषम हाल में भी जीतते हैं। मनरेगा प्रकोष्ठ के ब्लाक अध्यक्ष चंदर यादव ने कहा कि कार्यकर्ताओं के बीच सही माहौल नहीं है, कार्यकर्ताओं को ताकत नहीं मिल रहा है, विधायक लोग जीतने के बाद भूल जाते हैं कि उन्हें हम लोगों ने बनाया है,यह बेहद जरूरी है कि वे लोग हम सबकी सुने। पिछड़ा वर्ग कांग्रेस के ब्लाक अध्यक्ष कन्नी लाल जायसवाल ने कहा कि सरकार ने कर्ज माफ किया और 25 रुपए किलो में धान ख़रीदा,15 साल तक हम विपक्ष में रहे लेकिन अब सरकार बना है तो कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाना है उसे कम नहीं होने देना है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नारद तिवारी,शनि राम, जिला उपाध्यक्ष कांग्रेस खोरेन खलखो,प्रमोद ठाकुर,जिला पंचायत सदस्य प्रभात बेला मरकाम,मनपतिया सिंह,अचिंराशु मिश्रा, रुपेश यादव,जफर खान,विद्धानन्द मिश्रा , अन्य वक्ताओं ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम के दौरान पूर्व विधायक महेश्वर पैकरा, शंकरगढ़ ब्लाक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष विजय पैकरा, राम अयोध्या सिंह,सत्येंद्र पांडेय, . बी.एन. द्विवेदी,अनिल अग्रवाल,जितेंद्र गुप्ता, अनिल गुप्ता,देवशरण राम,विद्यानंद दुबे,विकास बंसल,रामनारायण जयसवाल,डी.पी. विश्वकर्मा,खसरू बुनकर,कृष्णा नाग,वीरा साय,राशिद अली, बृजेश मिश्रा,सुनील भगत,अंकुर गुप्ता,राहुल भारती,संतोष सोनी,मालती सोनवानी, मो.इकबाल,मो. रउफ,मोजाहिद खान, गुलाम मुस्तफा,मुमताज खान,तिवारी राम,अमन सोनी,अकाश भारती,दिनेश सोनवानी,आकाश सिंह दिनेश यादव,सुरेश पन्ना, प्रयाग यादव,गंगा यादव,गोपी यादव, अरविंद कुमार,सरजू लकड़ा,अंजू भगत दुर्गावती सिंह,सुनीता शांडिल्य, देवबली सिंह पंकज जयसवाल,सुरेश यादव,गोवर्धन सिंह,दसरू दास,अर्जुन यादव,अभिनव गुप्ता,विभु जयसवाल व अन्य कांग्रेस के पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे।

संगठन सर्वोपरि विधायक की उपेक्षा से कोई सरोकार नहीं

किसान कांग्रेस के अध्यक्ष राम बिहारी यादव ने कहा कि एकजुटता से हमनें सरकार बनाया। सरकार में होने पर कार्यकर्ताओं को मान सम्मान का उम्मीद रहता है लेकिन उसमें कमी दिखता है।
पार्षद पूरनचंद जायसवाल ने कहा कि 15 साल तक कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने संघर्ष किया,अब ढ़ाई साल बीत जाने के बाद अब लग रहा है कि हम लोग विपक्ष के हैं। जबकि 90 में 88 टिकट बट गया था लेकिन सामरी विधानसभा का टिकट फाइनल नहीं था। तब ब्लाक कांग्रेस के अध्यक्ष टी.एस.सिंहदेव के पास गए तब चिंतामणि जी को टिकट मिला था इसे समझना चाहिए संगठन सर्वोपरी है लेकिन अब चाहे विधायक सुने या न सुने हमें संगठन के लिए काम करना है।

900 वोट दिलाया लेकिन फोन नहीं उठाते

विनोद रस्तोगी ने कहा कि कार्यकर्त्ता युद्ध स्तर पर चुनाव के समय लड़ता है लेकिन चुनाव के बाद उसका हमेशा साथ दें, अनदेखा न करें। ऐसा हुआ तो छत्तीसगढ़ में भाजपा की सरकार कभी नहीं आएगी। दया राम ने कहा कि उन्होंने बड़ी उम्मीद के साथ अपने गांव से 900 वोट दिलाया लेकिन अब विधायक उनका फोन तक नहीं उठाते, वे गांव आते हैं तब भी उन्हें नहीं बताते, विधायक पैसा वालों के हो गए है।

सरकार व सत्ता के बीच तालमेल नहीं,पता नहीं विधायक किस गुमान में है

ब्लाक कांग्रेस उपाध्यक्ष लालसाय मिंज कि कार्यकर्त्ता उत्साहित हैं लेकिन संगठन व सरकार के बीच दूरी है, सरकार हमारे साथ होती तो और भी कार्यकर्त्ता हमारे बीच होते। सत्ता में होने के बाद भी सरकार की योजनाओं का संचालन हमारे कार्यकर्ताओं को नहीं मिला, मिला होता तो आज सैकड़ो की भीड़ होती। पता नहीं विधायक को क्या गुमान है, हमारे कार्यकर्ताओं को सम्मान दीजिये वरना नुकसान उठाना पड़ेगा और जिम्मेदारी विधायक की होगी। एक हैण्डपंप लगवाने लायक नहीं रह गए हैं। लगता ही नहीं है कि हम सरकार में हैं। पीड़ा तो पीड़ा है लेकिन हम कष्ट को छिपाकर हैं कुसमी ब्लाक अध्यक्ष हरीश मिश्रा ने कहा कि राजपुर का ब्लाक कांग्रेस परिवार बेहद मजबूत है। आने वाले विधानसभा चुनाव में हम 70 से अधिक सीट जीतेंगे। मेरे मन में भी पीड़ा है, लेकिन जिला अध्यक्ष के कहने पर उस कष्ट को छिपाकर हैं। हम बिना कार्यकर्ताओं के बिना कोई चुनाव नहीं जीत सकते। सत्ता व संगठन के बीच तालमेल नहीं है। आपके निर्देश का पालन तो करेंगे लेकिन पीड़ा तो पीड़ा है। मेरे प्रदेश अध्यक्ष ने आज तक मुझसे कभी बात नहीं किया। कुछ दिनों पहले सरकार में उपापोह हुआ लेकिन प्रदेश अध्यक्ष के मुंह से एक शब्द नहीं निकला वहीं भाजपा ने कई मुख्यमंत्री बदल दिया। विधायक हम बनाते हैं वो संगठन नहीं बनाते। सरगुजा जिला कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अरविन्द सिंह ने कहा कि उम्मीद थी कि 15 साल बाद हमारी सरकार आई है तो हमारा काम होग़ा लेकिन चुनाव जीतने के बाद नेता भाग रहे हैं। कार्यकर्त्ताओं का भी सत्ता में भागीदारी होना चाहिए। अगर कांग्रेस को इस क्षेत्र में आगे बढ़ाना है, कार्यकर्ताओं की शिकायत है उनकी नहीं सुनी जाती है, सत्ता के तीन साल बाद भी हमारे कार्यकर्ताओं को सोसायटी तक नहीं मिला। सत्ता व संगठन के बीच भवायह टकराव है जो भविष्य के लिये खतरनाक है। ऐसे में संगठन बिखर जाएगा।


Share