अम्बिकापुर@ठंड ने बढ़ाई मुसीबत न्यूनतम तापमान में 2 डिग्री सेन्टी ग्रेट का गिरावट

24
Share

अम्बिकापुर 15 जनवरी 2022 (घटती-घटना)। पिछले कुछ दिनों से मौसक की आंख-मिचौली जारी है। कभी धूप तो कभी बारिश से अचानक बढ़ती ठंड से लोगों का स्वास्थ्य भी विगाड़ रहा है। पिछले एक सप्ताह से मौसम खराब चल रहा है। शुक्रवार को शुष्क हवाओं के साथ हुई मुसलाधार बारिश से ठंड बढ़ा दी है। लोग ठिठुरन महसूस कर रहे हैं। वहीं ठंड से बचने के लिए अलाव का भी सहारा लेना पड़ रहा है। मौसम वैज्ञानिक एएम भट्ट ने बताया कि उत्तरी कर्नाटक से उत्तरी ओडिशा तक बनी द्रोणिका अभी भी सक्रिय है और बंगाल की खाड़ी में दक्षिण-पश्चिम से दक्षिण-पूर्व तक एक चक्रवाती परिसंचरण भी 1.5 किमी की ऊंचाई के स्तर तक फैला हुआ है जिससे लगातार नमी की आपूर्ति मध्य तथा पूर्वी भारत की ओर हो रही है। इस कारण उत्तरी छत्तीसगढ़ में गर्जन के साथ-साथ बारिश हो रही है। कहीं-कहीं ओलावृष्टि होने का अनुमान है।
उत्तरी छत्तीसगढ़ में ठंड के तेवर और तीखे हो गए हैं। शनिवार को दिन में भी ठंडी हवाओं के चलने से ठिठुरन बढ़ी रही। दिन में भी लोग गर्म कपड़े पहने नजर आए। शनिवार को अंबिकापुर का अधिकतम तापमान 18.3 डिगी सेन्टी ग्रेट रहा जबकि न्यूनतम तापमान में 2 डिग्री की गिरावट दर्ज की गई है। शुक्रवार को जहां न्यानतम तापमान 12 डिग्री सेन्टी ग्रेट था वहीं इसके दूसरे दिन यह तापमान घट कर 10 डिग्री सेन्टी ग्रेट पहुंच गया है। मौसम वैज्ञानिक एएम भट्ट ने बताया कि उत्तरी कर्नाटक से उत्तरी ओडिशा तक बनी द्रोणिका अभी भी सक्रिय है और बंगाल की खाड़ी में दक्षिण-पश्चिम से दक्षिण-पूर्व तक एक चक्रवाती परिसंचरण भी 1.5 किमी की ऊंचाई के स्तर तक फैला हुआ है जिससे लगातार नमी की आपूर्ति मध्य तथा पूर्वी भारत की ओर हो रही है। इस कारण उत्तरी छत्तीसगढ़ में गर्जन के साथ-साथ बारिश हो रही है।


Share