अंबिकापुर@महिला की मौत,बेटा ने लगाया जहर देने का आरोप

29
Share

अंबिकापुर 08 जनवरी 2022 (घटती-घटना)। एक महिला नए साल पर 1 जनवरी की रात गांव के ही दो अन्य महिलाओं के साथ अपने घर में बैठकर हडिय़ा की सेवन की। इसके बाद उसकी तबियत विगड़ गई और इलाज के दौरान महिला की मौत मेडिकल कॉलेज अस्पताल में हो गई। वहीं मृतिका के बेटा ने अपनी मां के हडिय़ा में दोनों महिलाओं द्वारा जहर मिलाने का आरोप लगाया है। जानकारी के अनुसार हीरामति बाई पति रती राम उम्र 50 वर्ष बगीचा थाना क्षेत्र के नावापारा की रहने वाली थी। 1 जनवरी की रात को 12 बजे गांव की बैजंती और पंडरी उसके घर आए और हीरामति के साथ बैठकर हडिय़ा का सेवन किया। इसके बाद दोनों महिलाएं अपने-अपने घर चली गई। दोनों महिलाओं के जाने के बाद हीरामति ने पुन: बचा हुआ हडिय़ा पीने लगी। इसके बाद उसकी तबियत विगड़ गई। परिजन उसे इलाज के लिए बगीचा अस्पताल ले गए। यहां चिकित्सकों ने उसकी स्थिति को गंभीर देखते हुए अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफर कर दिया। यहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। वहीं मृतिका के बेटा बब्लू अस्पताल सहायता केन्द्र में पुलिस के सामने आरोप लगाया है कि हडिय़ा पीने के दौरान बैजंती और पंडरी ने हडिय़ा में जहर मिला दिया है। इससे मेरी मां की मौत हुई है। वहीं बेटे का आरोप है कि पूर्व में दोनों महिलाओं से मेरी मां से विवाद भी हुआ था।


Share