अम्बिकापुर @1 महीने में रुपए दुगनी करने के नाम पर करोड़ों रुपए लेकर युवक हुआ फरार

58
Share

अम्बिकापुर 25 दिसम्बर 2021 (घटती-घटना)। अंबिकापुर में एक चौंपाने वाला मामला सामने आया है। यहां एक युवक ने सौकड़ों लोगों से रकम दुगना करने के नाम पर करोड़ों रूपये लेकर फरार हो गया है। वहीं जब युवक करोड़ो रूपये लेकर फरार हो गया तो अब पीड़ीत युवक के घर का चक्कर काट रहे हैं। हालांकि अब तक यह मामला पुलिस तक नहीं पहुंची है।
जानकारी के अनुसार शहर के मोमिनपुरा हरसागर तालाब के पास रहने वाले सकड़ों लोगों का आरोप है कि मोमिनपुरा बीएसएनएल टावर गली निवासी हामिद नामक युवक पिछले कई महीनों से रकम दुगना करने का झांसा देकर लोगों के बीच पहले तो विश्वास बनाया। उसके बाद कई लोगों द्वारा उसे लाखों रुपए दुगना करने के लिए दिए गया। इस बीच युवक द्वारा कई लोगों को रकम दोगुना करके वापस भी किया। लेकिन यह रकम छोटी थी। जिससे उसके ग्राहक दिनोंदिन बढ़ते गए। पीडि़तों का कहना है कि हामिद खुद को 4 यूडिवो लाइफ कैयर प्राईवेट लिमिटेड कम्पनी का कर्मचारी बताता था। साथ ही उसके पास जो भी ग्राहक पैसा दुगनी कराने आते थे उसे बाकायदा उसका रसीद भी देता था। जिसमें कंपनी का नाम भी लिखा हुआ रहता था यही नहीं हामिद अपने ग्राहकों से प्राप्त रुपए को नमनाकला स्थित अपने अधिकारी विक्रमादित्य नामक युवक के पास उसे जमा भी करता था। यह कार्य हामिद द्वारा पिछले डेढ़ साल से लगातार किया जा रहा था।

शुरूआत लोगों का विश्वास जीतने रुपए किया था डबल

शुरुआती दौर में लोगों द्वारा 500 का 5000, 2000 का 10000 और एक लाख का 2 लाख दिया जा रहा था। जिसमें समयावधि 3 माह का रहता था लेकिन पिछले दो माह से यह समय अवधि एक माह हो गया था। इस दौरान समय पूरा होने पर ग्राहक रसीद दिखा कर अपना पैसा प्राप्त कर लेता था। लोगों के बीच विश्वास इस कदर बढ़ गया व नगद लेनदेन के कारण इस कंपनी के ग्राहक पूरे शहर में बन चुके थे। बताया जा रहा है कि तकरिबन 10 से 15 करोड़ रूपए प्रति महीने इस कंपनी का लेन देन रहता था। आम लोगों की अज्ञानता का फायदा उठाकर हामिद लोगों के बीच इस कदर विश्वास बना लिया की गरीब तबके के लोग अपनी जिंदगी की जमा पूंजी तो कोई जेवर, जमीन बेचकर पैसा दुगनी करने के लालच में पड़ गए। वहीं कुछ तो 50 से 75 लाख रूपए तक दुगनी करने के चक्कर में अब हाथमल रहे हैं। पीडि़तों का कहना है कि 21 दिसंबर से युवक अचानक गायब हो गया जिसके बाद लोगों में बेचैनी बढ़ती चली गई। वहीं पीडि़त अब अपनी जमा पूंजी वापस लेने युवक के घर चक्कर लगा रहे हंै। वहीं कुछ लोगों का कहना है की उन्होंने ने हामिद के कम्पनी के विक्रमादित्य नामक युवक को मोबाइल से संपर्क किया तो उसने बताया कि वह रायपुर में हैं और कंपनी 2 महीने पहले ही अपना बोरिया बिस्तर बांध कर फरार हो गई है। इसकी जानकारी हामिद को थी और वह अपने रिस्क पर लोगों से पैसा जमा करा रहा था। बहरहाल इस फर्जीवाड़े के मामले में अब तक पीडि़तों ने थाने में शिकायत दर्ज नही कराई है। फिलहाल पीडि़तों का कहना है कि जल्द इस मामले की शिकायत वे कोतवाली थाने में दर्ज कराएंगे।


Share