बैकुण्ठपुर@करोडों से बने कांग्रेस भवन के बजाए विजयी पार्षदों की बैठक महल में क्यों?

241
Share

पार्षदों की हो चुकी है रायपुर रवानगी,मुख्यमंत्री से आज होगी मुलाकात,मुख्यमंत्री से मिलेंगे कांग्रेस के सभी विजेता पार्षद,मुख्यमंत्री देंगे सभी को बधाई

वार्ड क्रमांक 06 से विजयी कांग्रेस प्रत्यासी का उपाध्यक्ष बनना तय,कांग्रेस में चुनाव जीते एक पार्षद के नाम पर नहीं बन रही अध्यक्ष पद के लिए सहमति

रवि सिंह –
बैकुण्ठपुर 24 दिसम्बर 2021 (घटती-घटना)। जिले की दोनों नगर पालिकाओं बैकुंठपुर व शिवपुर चरचा में सत्ताधारी दल कांग्रेस के सबसे ज्यादा साथ ही नगर सरकार बनाने के हिसाब से निर्णायक संख्या में पार्षदों के जीतकर आने के बाद अब सत्ताधारी दल कांग्रेस नगरीय सरकार के दोनों प्रमुख पदों अध्यक्ष व उपाध्यक्ष पद पर अपना कब्जा जमाने के प्रयास में जुट गई है और वह किसी भी तरह कोई भी मौका विपक्षी दल भाजपा को नहीं देना चाहती जिससे जीतकर भी हार हो जाये।
सूत्र बताते हैं कि गुरुवार को चुनाव परिणाम घोषित होते ही और पार्षदों के विजय जुलूस में शामिल होकर घर पहुंचते ही उन्हें पार्टी कार्यालय से सूचना प्राप्त हुई और सभी को पैलेश उपस्थित होने का फरमान जारी हुआ। सभी पार्षद जैसे ही पैलेश पहुंचे सभी को तत्काल रायपुर कुच करने का निर्देश जारी हुआ और ऐसा तत्काल करने की हिदायत दी गई, बताया जा रहा है कि उपस्थित कांग्रेस पार्षदों ने तत्काल रायपुर कुच करने से मना करते हुए मजबूरी बताई की चुनाव की थकान मिट जाने के बाद ही वह रायपुर कुच कर सकेंगे और शुक्रवार की सुबह ही जिले की दोनों नगरपालिकाओं के कांग्रेस समर्थित पार्षदों को लेकर स्वयं विधायक रायपुर रवाना हो चुकी हैं, वहीं से अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के नाम पर सहमति के साथ वापस आकर अध्यक्ष उपाध्यक्ष पद हेतु पार्षद मतदान करेंगे ऐसा भी बताया जा रहा है। बताया यह भी जा रहा है कि पार्षदों में से भी गुरुवार को सभी को नहीं बुलाया गया लेकिन ज्यादातर पार्षद उपस्थित हुए। बैकुंठपुर नगरपालिका में जहां कांग्रेस की तरफ से अध्यक्ष पद हेतु तीन नाम सामने आ रहें हैं वहीं शिवपुर चरचा नगरपालिका से केवल एकमात्र नाम ही अध्यक्ष पद के लिए सामने आया है और वही तय है यह भी सूत्र बता रहें हैं। वैसे शिवपुर चरचा नगरपालिका में कांग्रेस की दो गुटों की लड़ाई में पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष गुट पराजित हुआ और उसके पराजित होते ही यह तय हो गया कि अध्यक्ष पद पर अब केवल एक नाम ही शेष है। वैसे शिवपुर चरचा नगरपालिका में पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष को जनता से नकार दिया और उनके अध्यक्ष पद सहित एक अन्य खास समर्थक पार्षद पद उम्मीदवार की हार के बाद यह साबित भी हो गया।

करोडों के राजीव भवन की जगह बैठक हुई पैलेश में

बैकुंठपुर कांग्रेस कमेटी और विधायक के साथ पार्षदों की बैठक करोड़ों की लागत से बने राजीव भवन की बजाए पैलेश में आहूत की गई और ऐसा गोपनीयता बरतने के हिसाब से किया गया जैसा कि बताया जा रहा है। पार्षदों को पैलेश बुलाकर उन्हें रायपुर चलने निर्देश देने ही बैठक बुलाई गई थी जिसमें पार्षदों को पार्टी की तरफ से जारी निर्देश भी बताया गया। वैसे अब कुछ कांग्रेस के ही कुछ लोगों का कहना है कि जब करोड़ो की राजीव भवन का निर्माण शहर में किया गया है जो सर्वसुविधायुक्त भी है शहर में मौजूद है तो ऐसी स्थिति में पार्षद दल की बैठक पैलेश में रखने की जरूरत नहीं होनी थी वहीं गोपनीयता और अन्य किसी संभावनाओं पर भी कहना है कि सत्ता भी कांग्रेस की है जीते हुएपार्षदों की संख्या भी कांग्रेस की ही ज्यादा है ऐसे में राजीव भवन में बैठक की जा सकती थी और वह उचित भी होता।यह भी कहना है कि जब कार्यालय है तो क्या राजनीति महल से होगी या फिर कार्यालय से?

बैकुंठपुर नगरपालिका के अध्यक्ष पद के लिए दो नामों की भेजी जाएगी सूची

बताया यह भी जा रहा है कि बैकुंठपुर नगरपालिका में अध्यक्ष किसे बनाया जाए इसको लेकर जीते हुए पार्षदों में से दो महिला पार्षदों के नाम की सूची पार्षदों के साथ ही रायपुर भेजी जाएगी और चूंकि अध्यक्ष पद महिला हेतु आरक्षित है इसलिए दो महिला पार्षदों में से किसका नाम तय होगा यह अंतिम रूप से पार्टी तय करेगी यह भी पार्षदों को बता दिया गया है। बताया यह भी जा रहा है कि ऐसे किसी पार्षद को अध्यक्ष बनाने का विचार कांग्रेस नहीं कर रही है जिसका कांग्रेस पार्टी में हाल में ही प्रवेश हुआ हो और पार्टी किसी पुराने कार्यकर्ता के ही नाम पर मुहर लगाएगी यह तय है,यह सूत्रों का कहना है।

कांग्रेस के पार्षद रायपुर हुए रवाना

बैकुंठपुर व शिवपुर चरचा नगरपालिका से कांग्रेस पार्टी की टिकट पर चुनाव जीते पार्षद रायपुर रवाना हो चुके हैं और आज शुक्रवार को ही देर शाम उनकी मुलाकात प्रदेश के मुख्यमंत्री से होगी जहां मुख्यमंत्री सभी विजेता पार्षदों को बधाई देंगे वहीं पार्षद भी मुख्यमंत्री के प्रति आभार प्रकट करेंगे,अब कांग्रेस अपने पार्षदों को रायपुर में ही रखकर उनके बीच एक सर्वमान्य नेता तय करने की तैयारी में है और जिसे ही अध्यक्ष व उपाध्यक्ष बनाया जाएगा जिसमें सहमति पूर्व से बन जाये और किसी प्रकार का विरोध उत्तपन्न न हो यह कांग्रेस की मंशा है।

अध्यक्ष उपाध्यक्ष पद हेतु सहमति बनाने कोई कसर नहीं छोडना चाहती कांग्रेस

सत्ताधारी दल कांग्रेस जिला मुख्यालय की नगरपालिका में अपना अध्यक्ष उपाध्यक्ष बनाने कोई भी कसर नहीं छोड़ना चाहती है, निर्णायक बहुमत के बावजूद अध्यक्ष पद की लालसा में कोई पार्षद विपरीत जाकर किसी अन्य को समर्थन न दे दे यह पार्टी संभावना ही नहीं छोड़ना चाहती है। बताया यह भी जा रहा है कि कांग्रेस रायपुर में ही तय कर लेगी की अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के लिए किसका नाम तय हुआ है और किसे सभी को अपना मत प्रदान कर अध्यक्ष उपाध्यक्ष बनाना है।

कांग्रेसी पार्षदों को अध्यक्ष उपाध्यक्ष को दिए मत का फोटो खींचकर दिखाना होगा

सूत्रों द्वारा बताया जा रहा है बैकुंठपुर पैलेश में कांग्रेसी पार्षदों को यह भी बताया गया है कि जिसका भी नाम पार्टी की तरफ से अध्यक्ष उपाध्यक्ष के लिए पार्टी तय करेगी उसे सभी ईमानदारी से अपना मत देकर उसे अध्यक्ष उपाध्यक्ष बनाएंगे वहीं पार्षदों को बैठक में यह भी हिदायत गई कि अध्यक्ष उपाध्यक्ष को मत देने के दौरान पार्षदों को अपने मतदान की तस्वीर खींचकर मोबाइल से लानी होगी और साबित करना होगा कि कांग्रेस से घोषित प्रत्यासी को ही अध्यक्ष उपाध्यक्ष हेतु पार्षदों में मत प्रदान किया है।

कांग्रेस फूँक फूँककर कर रख रही है कदम

बैकुंठपुर नगरपालिका में कांग्रेस अब अध्यक्ष उपाध्यक्ष पद पर अपना कब्जा जमाने फूँक फूँककर कदम रख रही है पार्षदों को अपने मतदान का फ़ोटो खींचकर लाने को कहने के पीछे भी वजह यही है कि किसी भी स्थिति में अध्यक्ष उपाध्यक्ष हेतु नामित नहीं किये जाने से नाराज होकर कोई पार्षद विपरीत मतदान करते हुए विपक्षी दल को अध्यक्ष बनाने का मौका न दे दे।कांग्रेस अपने पार्षदों के बीच सामंजस्य बैठाकर उन्हें मानसिक रूप से किसी एक के लिए मतदान करने मनाकर ही पार्षदों को वापस बैकुंठपुर लाएगी यह भी सूत्रों का कहना है।

शिवपुर चरचा में अध्यक्ष पद लालमुनी यादव को मिलना तय

शिवपुर चरचा नगरपालिका चुनाव जो आरंभ से ही भूपेंद्र यादव और उनके समर्थकों के साथ उनकी मेहनत और उनको मिल रहे जनसमर्थन के हिसाब से कांग्रेस की जीत तय करती नजर आ रही थी में भूपेंद्र यादव की धर्मपत्नी लालमुनी यादव का अध्यक्ष बनना तय है।

अध्यक्ष उपाध्यक्ष पद पर आम सहमति से ही बनेगी कांग्रेस की नगर सरकार

बैकुंठपुर नगरपालिका में सभी कांग्रेस के विजेता पार्षदों के बीच आम सहमति बनाये बगैर अध्यक्ष उपाध्यक्ष पद पर कांग्रेस का कब्जा तय होता नजर नहीं आ रहा है,यदि किसी पार्षद को अध्यक्ष उपाध्यक्ष पद की लालसा होगी और उसका नाम अध्यक्ष उपाध्यक्ष पद के लिए चयनित नहीं किया जाता है तो वह विरोध में भी मतदान कर सकता है जिसको लेकर भी कांग्रेस संगठन में मंथन जारी है। अब कांग्रेस इस बात से पूरी तरह आस्वस्त होकर ही अध्यक्ष उपाध्यक्ष हेतु नाम तय करेगी जिससे किसी प्रकार का कोई विरोध आपस मे ही पार्षदों के उत्पन्न न हो जाये।


Share