Breaking News

बलरामपुर@अवैध रेत उत्खनन व परिवहन पर प्रशासन लगातार कर रहा है कार्यवाही

Share

टीम पर हुए हमले को लेकर सख्त हुआ प्रशासन

बलरामपुर 17 अक्टूबर 2021 (घटती-घटना)। जिले में रेत के अवैध उत्खनन व परिवहन पर रोक लगाने हेतु प्रशासन द्वारा लगातर कार्यवाही की जा रही है तथा मैदानी अमला भी सक्रियता व गंभीरता के साथ अवैध गतिविधियों के विरुद्ध कार्यवाही में जुटा हुआ है। इसी क्रम में रामचंद्रपुर तहसीलदार विनीत सिंह अवैध उत्खनन की जानकारी मिलने पर तत्काल टीम के साथ जांच के लिए पहुंचे थे, जहां उन पर अजीत सिंह, मनमोहन, पिंटू, विजय यादव व अन्य के द्वारा हमला कर शासकीय दायित्वों के निर्वहन में बाधा उत्पन्न किया गया। इस घृणित कृत्य को शासन ने गंभीरता से लेते हुए दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही करने के निर्देश दिए है। शासन के निर्देशानुसार कलेक्टर श्री कुंदन कुमार व पुलिस अधीक्षक श्री रामकृष्ण साहू ने तत्काल मौके पर पहुंचकर कानून व्यवस्था का जायजा लिया। कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक ने सयुंक्त रूप से कहा कि शासकीय कार्य मे बाधा डालने वालों पर विधि सम्मत कड़ी कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि हमने तहसीलदार से बात कर पूरी जानकारी ली है और जिसके आधार पर ही आगे कार्यवाही की जा रही हैं। कानून सर्वोपरि है तथा कोई भी इससे ऊपर नही है। प्रशासन और अधिक मनोबल के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन करेगा, प्रशासन व पुलिस आगे भी साथ मिलकर अपना काम करेंगे।
साथ ही कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक ने कहा कि कानून व्यवस्था की स्थिति पर नजर रखी जा रही है तथा अधिकारियों की सुरक्षा का भी पूरा ध्यान रखा जा रहा है।
वहीं तहसीलदार श्री विनीत सिंह ने थाना प्रभारी, सनावल को पत्र लिखकर दोषियों के विरुद्ध विधि संगत धाराओं में एफआई आर दर्ज करने को कहा है, जिस पर कार्यवाही जारी है। तहसीलदार श्री सिंह पत्र ने माध्यम से पूरे घटना का विवरण देते हुए बताया कि घटना सनावल थाना क्षेत्र के ग्राम त्रिशूली का है, जहां वे उच्च अधिकारियों के निर्देश पर अपनी टीम के साथ अवैध रेत उत्खनन के विरुद्ध कार्यवाही करने पहुंचे थे। इस दौरान उनकी टीम पर अजीत, मनमोहन, पिंटू सिंह व विजय यादव द्वारा हमला किया गया था, जिस पर उन्होंने यथोचित कार्यवाही के लिए पत्र लिखा है।


Share

Check Also

रायपुर,@10 बाल आरोपी माना संप्रेक्षण गृह से हुए फरार

Share ‘ रायपुर,29 जून 2024 (ए)। राजधानी रायपुर के माना में स्थित बाल संप्रेक्षण गृह …

Leave a Reply

error: Content is protected !!