बैकु΄ठपुर@समाचार पत्र संपादक बैठे धरने पर,कांग्रेस नेता के विरुद्ध जांच की हैं मांग

344
Share


धरने पर बैठने की सूचना प्रशासन को लिखित में देकर 29 सितम्बर से बैठे हैं धरने पर,संपादक ने बैकुंठपुर के कांग्रेस नेता पर लगाएं हैं गंभीर आरोप

  • रवि सिंह –

बैकु΄ठपुर 01 अक्टूबर 2021(घटती-घटना)। बैकुंठपुर जिला मुख्यालय के समाचार पत्र संपादक वैद्य रमेश चन्द्र 29 सितम्बर से प्रशासन को लिखित में सूचना देते हुए धरने पर बैठ गए हैं,वैद्य रमेश चन्द्र खुद बैकुंठपुर शहर के ही निवासी हैं वहीं वह शहर में ही अपनी पत्नी के नाम से भु अभिलेखों में दर्ज भूमि पर ही घर बनाकर वर्षों से निवासरत हैं, उन्होंने बैकुंठपुर जिला मुख्यालय के एक कांग्रेस नेता आशीष डबरे पर गंभीर आरोप लगाते हुए प्रशासन से मजबूरी में धरने की बात कहते हुए धरने पर बैठने की सूचना प्रशासन को दी है और वह प्रशासन से कांग्रेस नेता आशीष डबरे के खिलाफ कई बिंदुओं पर जांच कर कार्यवाही की मांग कर रहें हैं।

इंजीनियर से मारपीट व अपहरण मामले की जांच की मांग

वैद्य रमेशचंद्र ने प्रशासन को अवगत कराते हुए मांग की है कि आदिवासी विकास विभाग के उपयंत्री से फर्जी बिल पर हस्ताक्षर कराने को लेकर और उपयंत्री द्वारा ऐसा नहीं किये जाने पर आशीष डबरे ने उपयंत्री का गालीगलौज कर अपहरण कर लिया था और जान से मारने की भी धमकी दी गई थी जिसमें शिकायत भी हुई लेकिन कार्यवाही न तो प्रशासन ने किया न पुलिस विभाग ने,यदि उक्त मामले में कोई समझौता हुआ भी है तो उससे अवगत कराया जाना चाहिए वहीं यदि शिकायत झूठी थी तो सम्बंधित उपयंत्री पर धारा 182 के तहत कार्यवाही की जानी चाहिए यह मांग कर रहें हैं संपादक।

अपनी पत्नी के नाम दर्ज भूमि से कब्जा हटाने के लिए मांग

उन्होंने अपने शिकायत में यह भी लिखा है कि कांग्रेस नेता आशीष डबरे के चाचा प्रभाकर डबरे उनकी पत्नी के नाम पर भुअभिलेखों में दर्ज भूमि के कुछ हिस्से को अपनी तरफ मिलाकर निर्माण कार्य जारी रखे हुए हैं जबकि मेरे द्वारा इस आशय की शिकायत के बावजूद भी मेरी पत्नी के नाम की जमीन से कब्जा नही हटाया जा रहा है,वहीं 28 सितम्बर को खुद प्रभाकर डबरे के परिवार जन व उनके यहाँ काम करने वाले कर्मचारियों ने मेरे परिवार पर जानलेवा हमला किया वहीं जान से मारने की भी धमकी दी वही वह मुझे पुलिस कार्यवाही की भी धमकी दे गया। उक्त सभी मामलों में निष्पक्ष जांच की मांग को लेकर समाचार पत्र संपादक वैध रमेशचंद्र धरने पर बैठें हैं, अब देखना यह है कि उनकी शिकायतों को प्रशासन कितनी गम्भीरता से लेकर जांच कर कार्यवाही करता है।

नगरपालिका में किये गए निर्माण कार्यों की जांच

उन्होंने प्रशासन से मांग की है कि नगरपालिका क्षेत्र बैकुंठपुर में कांग्रेस नेता आशीष डबरे व उनके जितने भी साथियों ने निर्माण कार्य किया है उसकी जांच होनी चाहिए व घटिया निर्माण कार्यों का चिन्हांकन करते हुए उसके भुगतान को बाधित किया जाना चाहिए क्योंकि कांग्रेस नेता के सभी निर्माण कार्य घटिया स्तर के हैं।

कलेक्टर के तबादले पर घड़ी चौक में पटाखे फोड़ने की घटना की भी जांच अधूरी

उन्होंने प्रशासन व पुलिस विभाग से यह भी मांग रखी है कि कोरिया के कलेक्टर एस एन राठौर का जब तबादला हुआ तब कांग्रेस नेता आशीष डबरे व उनके ही साथियों ने घड़ी चौक पर पटाखे फोड़कर खुशियां मनाई थीं जिसकी भी जांच आवस्यक है जबकि जांच जारी कर अधूरा छोड़ दिया गया है।

पटना मुख्य चौराहे पर देर रात के हुड़दंग मामले में कार्यवाही की मांग

वैद्य रमेशचंद्र ने मांग की है कि जनपद उपाध्यक्ष पति के जन्मदिवस अवसर पर पटना मुख्य चौक पर देर रात कांग्रेस नेता आशीष डबरे व उनके साथियों ने फूहड़ नाच कीया था वहीं देर रात चौक के रहवासियों की नींद में खलल डाला था,जिसकी भी जांच करते हुए कार्यवाही की जानी चाहिए।

दबाव डालकर मटेरियल सप्लाई की जांच

उन्होंने यह भी मांग की है प्रशासन से की कांग्रेस नेता आशीष डबरे अधिकांश ग्राम पंचायतो में अपने ही दुकान से सरिया, सीमेंट व अन्य बिल्डिंग मटेरियल सप्लाई का दबाव डालकर सप्लाई करते हैं जो कि गलत है इसकी भी जांच की जानी चाहिए।


Share