अम्बिकापुर@खिलाडिय़ों को अंतरराष्ट्रीय पहचान दिलाने के लिए आरआरवीयूएनएल की आर्थिक मदद

33
Share

अम्बिकापुर 12 अक्टूबर 2021 (घटती-घटना)। सरगुजा जिला के खिलाडिय़ों ने सीमित संसाधनों के बावजूद राज्य स्तर पर आयोजित तीर धनुष प्रतियोगिता में उत्कृष्ठ प्रदर्शन किया है। इसके मद्देनजर राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर में भी अपना परचम फहराने हेतु राजस्थान राज्य विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड (आरआरवीयूएनएल) ने अपने परसा केते खदान के सीएसआर मद से सरगुजा तीरंदाजी संघ को आर्थिक सहायता प्रदान की है। अपर कलेक्टर के कार्यालय में आरआरवीयूएनएल के प्रतिनिधियों ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर के तीर धनुष खरीदने के लिए अपर कलेक्टर तनुजा के मौजूदगी में 2 लाख रूपए की सहायता राशि, सरगुजा तीरंदाजी संघ की ओर से सचिव व कोच राहुल सोनकर को प्रदान किया गया। सरगुजा तीरंदाजी संघ के 13 खिलाडिय़ों ने बेमेतरा में आयोजित राज्य स्तरीय आर्चरी प्रतियोगिता में सबसे अधिक पदक अपने नाम कर उत्कृष्ट प्रर्दशन किया है। प्रतियोगिता में सीमित संसाधनों के बावजूद अच्छा प्रदर्शन करने वाले हमारे जिले के खिलाडिय़ों का चयन राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिए किया गया है। अब राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर में भी बेहतर प्रदर्शन तथा ख्याति दिलाने के लिए इस सहायता राशि से निश्चित रूप से जिले के खिलाडिय़ों में तीरंदाजी के प्रति रूचि बढ़ेगी और प्रतियोगिता को बढ़ावा मिलेगा। इसके साथ ही नए खिलाड़ी भी तीरंदाजी से जुडऩा चाहेंगे। दरअसल केंद्र की ‘एक राज्य, एक खेल’ पहल के तहत तीरंदाजी के लिए छत्तीसगढ़ का चयन किया गया है। ओलंपिक 2024 में भारत के लिए संभावनाओं को बढ़ाने के उद्देश्य से, केंद्रीय खेल मंत्रालय ने ‘एक राज्य, एक खेल’ नीति शुरू की है। इसके तहत राज्यों को अतिरिक्त सुविधाएं, खेल प्रशिक्षण तथा विशिष्ट खेल के खिलाडिय़ों के बेहतर प्रदर्शन के लिए सुविधाएं इत्यादि प्रदान किया जाएगा, जिससे वे बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं ।इस कारण सरगुजा में तीरंदाजी को बढ़ावा देने की खास पहल की जा रही है। इस मुहिम में राजस्थान राज्य विद्युत निगम लिमिटेड भी अपने सामाजिक दायित्व का भली-भांति निर्वहन कर रहा है जिससे क्षेत्र के खिलाडिय़ों को पर्याप्त संसाधन व उत्कृष्ट प्रदर्शन का माहौल मिल सके। इसके पूर्व जिले में फुटबॉल को भी बढ़ावा देने के लिए फुटबॉल क्लब के खिलाडियों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर की सुविधाएं उपलब्ध कराई गयी है।


Share