लखनऊ@वीडियो में बेटे को दिखा दें तो दे देंगे इस्तीफा

42
Share


लखनऊ ,05 अक्टूबर 2021 (ए)। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई घटना को लेकर एक तरफ विपक्ष के तेवर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र के बेटे पर बेहद गर्म है. दावा है कि उनके बेटे की मौजूदगी में कार से कुचल कर किसानों की जान ली गई. वहीं सांसद और केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी ने चुनौती देते हुए कहा है कि अगर कोई घटनास्थल पर उनके बेटे की मौजूदगी का एक भी वीडियो दिखा दे तो वह मंत्री पद से इस्तीफा दे देंगे. मंत्री अजय मिश्र टेनी ने मंगलवार को पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा, मैं लगातार अपनी बात रख रहा हूं. हमारे पास यह साबित करने के सबूत हैं कि ना तो मैं और ना ही मेरा बेटा घटनास्थल पर मौजूद था. मेरे बेटे की मौजूदगी का एक भी वीडियो दिखा दें, मैं मंत्री पद से इस्तीफा दे दूंगा. हमलोग किसी तरह की जांच का सामना करने को तैयार हैं. जो भी दोषी है, जिसने यह सब प्लान किया, उसे छोड़ा नहीं जाएगा.
वहीं सीपीआई ने गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी को उनके पद से हटाने की मांग की है. अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा के खिलाफ केस दर्ज हुई है. इसको लेकर आशीष मिश्रा ने कहा कि अगर मेरे खिलाफ केस दर्ज किया गया है तो फिर राकेश टिकैत के खिलाफ क्यों नहीं किया गया? मैं घटनास्थल पर मौजूद नहीं था. जो बीजेपी कार्यकर्ता मारे गए हैं, उन्हें भी मुआवजा मिलना चाहिए. इधर लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा का एक वीडियो सामने आया है. इस वीडियो में दिख रहा है कि कैसे एक गाड़ी प्रदर्शन कर रहे किसानों को जानबूझकर रौंदते हुए निकल रही है. इस घटना का वीडियो सामने आते ही अब सरकार भी घिर गई है. इस वीडियो को एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने इसकी तुलना जलियांवाला कांड से कर दी तो वहीं बीजेपी की ही सहयोगी जेडीयू ने भी सरकार को घेरते हुए कहा कि ये ब्रिटिश काल की याद दिलाता है.


Share