रायपुर @ बीजेपी नेता ने झूठ बोला ताकि बदनाम न हो प्रेमिका,इलाज के दौरान मौत

30
Share


बिना तलाक के लड़की पर शादी का दबाव,झगड़े के बाद खुद ही पेट्रोल डालकर लगाई आग


रायपुर, 22 नवम्बर 2021 (ए )। रायपुर के नरदहा में प्रेमिका से झगड़े के बाद खुद को आग लगाने वाले बीजेपी नेता अभिषेक राय की मौत हो गई। मूलत: कोंडागांव के रहने वाले अभिषेक का डीकेएस अस्पताल में इलाज चल रहा था। 18 नवंबर को करीब 30 फीसदी जली अवस्था में उन्हें अस्पताल भर्ती किया गया था। सोमवार की तड़के इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। बताया जाता है कि अभिषेक राय राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ और भाजपा से जुड़ा सक्रिय नेता था। कागजी प्रक्रिया के बाद अब रायपुर पुलिस राय के शव को कोंडागांव से आए उसके परिजनों को सौंपेगी।
पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक अभिषेक का अपने शादीशुदा प्रेमिका से झगड़े के बाद उसने खुद पर पेट्रोल डालकर आग लगा ली थी। घायल अभिषेक को जब अस्पताल लाया तब उसने पुलिस को बताया था कि उसके दोस्त तूफान वर्मा ने उस पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी। राय ने दावा किया कि वो प्रॉपर्टी के काम से नरदहा गया था, उसने तूफान से कुछ रुपए लौटाने को कहा था जो उसने वक्त पर नहीं लौटाए। इसी बात पर उनका विवाद हो गया। इसी समय बदला लेने वो पेट्रोल लेकर आया और राय को जिंदा जलाने का प्रयास किया।
प्रेमिका ने खोला सच
पुलिस की जांच में खुलासा हुआ कि मामले में आरोपी बनाया गया तूफान उस वक्त रायपुर नहीं बल्कि जगदलपुर में था। एक अस्पताल में नर्स का काम करने वाली युवती से बीते 5 सालों से अभिषेक (ख्छ्वक्क रुद्गड्डस्रद्गह्म्) का रिलेशनशिप था। युवती शादीशुदा है। फिलहाल उसने अदालत में पहले पति से तलाक की अर्जी दे रखी है। अभिषेक ने चाय पीने के बहाने युवती को नरदहा बुलाया था। यहां अभिषेक ने युवती पर शादी करने का दबाव बनाया। लड़की ने कह दिया कि बिना तलाक के वो शादी नहीं कर सकती। इसी बात से झुंझलाकर पहले से ही साथ लाई पेट्रोल की बोतल अभिषेक ने खुद पर उड़ेली और आग लगा ली थी। तब लड़की की बदनामी के डर से अभिषेक ने पुलिस को झूठी कहानी सुनाई। मगर जब पुलिस ने युवती को पूछताछ के लिए बुलाया तो सारी बात सामने आई थी।


Share