शहर की सड़कें हुई जर्जर,कीचड़ व धूल से लोग परेशान

75
Share


शहर की खस्ताहाल सड़कों पर चलना हुआ अब मुश्किल,दुर्घटना की बनी आशंका

अम्बिकापुर 29 सितम्बर 2021 (घटती-घटना)। अंबिकापुर शहर की हिचकोले खाती सड़क से आम जनता त्रस्त हो चुकी है। सड़क पर चलना मुहाल हो गया है। बड़े -बड़े गड्ढे होने की वजह से सकड़ दुर्घटनाएं की संभावना बनी रहती है। जनता तो परेशान है लेकिन निगम हो या प्रशासन सकड़ के सुधार कार्य की ओर कोई भी जिम्मेदार ध्यान नही दे रहा है।
यदि आप अंबिकापुर शहर की सड़कों पर चल रहे हैं तो जरा संभल के चलिए कभी भी आपके साथ बड़ा हादसा हो सकता है। क्योंकि कि अंबिकापुर में अब सड़क ही नहीं रह गई है। सड़क के नाम पर अब बड़े-बड़े गड्ढे नजर आते हैं। शहर के बनारस रोड़, बिलासपुर रोड़ या मनेंद्रगढ़ रोड हर तरफ की सड़क जर्जर हो चुकी है और बारिश के इस सीजन में सड़क का हाल और भी बुरा हो चुका है। बारिश होते ही मानो सड़क का नजारा ऐसा नजर आता है जैसे यह सड़क नहीं बल्कि तालाब है। लोग अपनी जान हथेली पर रखकर हिचकोले खाती सड़क पर चलने को मजबूर हैं। वही जब धूप निकलती है तो जर्जर सड़क की वजह से लोगों को उड़ती धूल का भी सामना करना पड़ता है। अंबिकापुर शहर की सड़क पर चलना लोगों के लिए किसी मुसीबत से कम नहीं है। यही वजह है कि आए दिन जर्जर सड़क की वजह से हादसे भी हो रहे हैं। कभी लोग गंभीर रूप से घायल होते हैं तो कभी लोगों को इन जर्जर सड़क की वजह से अपनी जान गवानी भी करती है।

अमृत मिशन की वजह से सड़क हुई और जर्जर

बीते 6 महीने से शहर की सड़कों का हाल बेहाल देखने को मिल रहा है। इसके पीछे की एक बड़ी वजह अमृत मिशन योजना भी है। दरअसल नगर निगम अमृत योजना के तहत शहरी क्षेत्र में घर-घर तक पानी पहुंचाने के लिए पाइप लाइन बिछाने का कार्य कर रहा है और यह कार्य अंतिम चरण पर भी है। इधर पाइप लाइन विस्तार के लिए शहर के सभी प्रमुख मार्गों को खोदा गया है। जिस वजह से जिस वजह से शहर के इलाकों की ज्यादातर सड़क जर्जर हो चुकी है। जब तक पाइप लाइन विस्तार का कार्य पूरा नहीं हो जाता तब तक लोगों को जर्जर सड़क की गंभीर समस्या का सामना करते रहना पड़ेगा।

शहर की खूबसूरती पर लग रहा ग्रहण

अंबिकापुर शहर सबसे स्वच्छ शहरों में शुमार है। हर वर्ष स्वच्छता का अवार्ड हमारे शहर को मिलता है लेकिन शहर की खूबसूरती पर तब ग्रहण लग जाता है जब यहां की सड़कें दिखाई पड़ती हैं। बारिश के समय सड़कों की हालत ऐसी हो जाती है कि इन पर चलना मुश्किल होता है।

शहर की कई चौकों की हालत भी खराब

अंबिकापुर शहर के विभिन्न सड़कों के साथ-साथ चौकों भी काफी जर्जर हो चुकी हैं। बनारस मार्ग पर स्थित अंबेडकर चौक पिछले काफी दिनों से जर्जर स्थिति में है। इसे मरम्मत को लेकर भाजपा पार्षद व नेताओं द्वारा प्रदर्शन भी किया जा चुका है। इसके बावजूद ही चौक को की हालत

कराया जाएगा पेच रिपेयरिंग का कार्य

अंबिकापुर नगर निगम के मेयर डॉक्टर अजय तिर्की का कहना है कि अमृत मिशन योजना के तहत बिछाए जा रहे पाइपलाइन विस्तार का कार्य पूरा होते ही बारिश के बाद शहर की सड़कों के पेच रिपेयरिंग का कार्य किया जाएगा। इस गंभीर विषय पर निगम के अधिकारियों के साथ उनकी चर्चा भी हुई है। यदि सड़क के सुधार कार्य के लिए राशि आवंटित नहीं होता है तो निगम इस विषम परिस्थितियों में अपने फंड से शहर की सड़कों का सुधार कार्य करवाएंगा।


Share