मुबई@जीएसटी रैकेट का भडाफोड़,41 करोड़ की फर्जी बिल मिले

Share


मुबई 19 अगस्त 2022। बड़ी खबर महाराष्ट्र के मुबई से आ रही है। खबर के अनुसार, यहा सीजीएसटी के मुबई स्थित भिवडी आयुक्तालय की टीम ने आज इनपुट टैक्स क्रेडिट पाने के लिए फर्जी बिलो के आधार पर दावा करने वाले एक बड़े गिरोह का भडाफोड़ किया है। आरभिक रूप से 41 करोड़ के फर्जी बिलो के आधार पर 18 करोड़ के आईटीसी का पता चला है। मामले मे एक फर्म के आरोपी को गिरफ्तार किया गया है।
सीजीएसटी भिवडी के आयुक्त सुमित कुमार ने बताया कि यह गिरोह नकली जीएसटी चालान के जरिए इनपुट टैक्स क्रेडिट का फायदा उठाने मे जुटा था। इस गिरोह से जुड़ी एक फर्म ने 14.30 करोड़ रुपये के फर्जी बिलो के माध्यम से 2.57 करोड़ रुपये के आईटीसी का लाभ उठाया था। मामला पकड़ मे आते ही फर्म के मालिक को गिरफ्तार कर लिया गया।
जिस फर्म के कर्ताधर्ता को दबोचा गया है, उसका नाम मेसर्स विश्वकर्मा एटरप्राइजेज है। उसने 14.30 करोड़ रुपये के फर्जी चालान पर 2.57 करोड़ रुपये के आईटीसी का लाभ उठाया। आरोपी को सीजीएसटी अधिनियम 2017 की धारा 69 के तहत सीजीएसटी अधिनियम, 2017 की धारा 132 के उल्लघन के आरोप मे गिरफ्तार किया गया है। उसे भिवडी सीजीएसटी कमिश्नर द्वारा जमानत पर रिहा कर दिया गया।
यह मामला टैक्स धोखाधड़ी करने वालो और फर्जी आईटीसी नेटवर्क के खिलाफ सीजीएसटी मुबई जोन द्वारा शुरू किए गए विशेष अभियान का हिस्सा है। पिछले एक साल मे सीजीएसटी भिवडी द्वारा की गई गिरफ्तारी का यह 15 वा मामला है। आगे जाच जारी है।


Share

Check Also

हैदराबाद,@सात करोड़ के कर्ज में डूबे हैं एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन औवेसी

Share लोकसभा चुनाव 2024: हैदराबाद को एआईएमआईएम का गढ़ माना जाता है हैदराबाद,20 अप्रैल2024 (ए)। …

Leave a Reply

error: Content is protected !!