यहां कॉपी पेन के बदले बच्चों के हाथ में पकड़ाया गया फावड़ा

Share


शिक्षा के मंदिर में नौनिहालों से मजदूरी


दंतेवाडा 19 सितम्बर 2021 (ए)। बच्चों के लिए स्कूल शिक्षा का मंदिर होता है। लेकिन जब यही शिक्षा का मंदिर कॉपी पेन के बजाय हाथ में फावड़ा पकड़ा दे तो जी हां ऐसा ही कुछ देखने को मिला जिले के जारम पंचायत में संचालित मीडिल स्कूल में। बच्चों को पढ़ाई के बजाय फावड़ा पकाड़कर मिट्टी की खुदाई कराई जा रही थी। शिक्षक साहब कुर्सी पर बैठकर गप्पे मार रहे थे। शिक्षकों को बेतूका जवाब इस मामले को लेकर जब तुलिका कर्मा ने शिक्षकों से बात की तो उन्होंने बेतुका सा जवाब देते हुए कहा कि बच्चों से शनिवार को बागवानी के नाम पर श्रम दान करवाया जा रहा है। जवाब सुनकर जिपं अध्यक्ष नाराज हुईं और पूछा कि क्या श्रमदान के नाम पर ऐसा मजदूरों की तरह काम कराया जाता है? शिक्षकों के पास कोई जवाब नहीं था। तूलिका ने शिक्षकों को फटकार लगाते हुए भविष्य में ऐसा ना करने की हिदायत दी।


Share

Check Also

कांग्रेस और राजनैतिक मनभेद

Share घटती घटना/अशोक ठाकुरविवाद,अर्न्तकलह,भीतरघात, आपसी आरोप-प्रत्यारोप व परिवारवाद की राजनीति का चोली-दामन का साथ नेहरु …

Leave a Reply

error: Content is protected !!