अनंत चतुर्दर्शी पर गणेश उत्सव का हुआ समापन

33
Share

पृथवीलाल केशरी-


रामानुजगंज 19 सितम्बर 2021 (घटती-घटना)। अनंत चतुर्दर्शी के पावन अवसर पर रविवार को पिछले दस दिवसीय गणेश उत्सव का समापन हुआ। श्रद्धालु गणपति बप्पा मोरिया,अगले बरस तू जल्दी आ के जयकारों के साथ बप्पा को विदाई दी। इसके पहले घरों और पंडालों में भगवान गणेश की पूजा अर्चना और महाआरती की गई। इस बार अनेक घरों में पर्यावरण संरक्षण का संदेश देने के लिए मिट्टी के गणेश जी की स्थापना की गई थीं। इन दिनों श्रद्धालु सिद्धि विनायक भगवान गणेश की आराधना कर रहे थे। घरों में आकर्षक साज सज्जा कर गणेश जी की स्थापना की गई ,इसी प्रकार शहर में भी अनेक स्थानों पर पंडाल सजाकर भगवान गणेश की स्थापना की गई थीं। डोल ग्यारस के साथ भगवान गणेश के विसर्जन का सिलसिला प्रारंभ हो गया था। आज रविवार को अनंत चतुर्दर्शी के मौके पर श्रद्धा के साथ भगवान गणेश जी का विसर्जन कन्हर नदी में किया गया।
खुलेआम बजता रहा डीजे
और प्रशासन रहा मौन
न्यायालय के आदेशों के बावजूद भी ध्वनि प्रदूषण कर रहे डीजे पर शासन प्रशासन लगाम लगाने में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाया जिसके कारण पूरे नगर वासी विसर्जन के समय परेशान रहे क्योंकि जिस जगह पर डीजे बजता उस एरिया से लगें हुए 2 किलोमीटर की दूरी को प्रभावित करता है। लेकिन शासन-प्रशासन न्यायालय के आदेश को पालन कराने में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई जा रही हैं। नगर के लोग 10 दिनों तक अच्छे खासे परेशान दिखे दिन में ही नहीं रातों में भी बचते रहे डीजे इससे दिल के रोगियों को भारी परेशानी हुई। और डीजे के प्रदूषण से होने वाले नुकसान से शासन प्रशासन को कोई लेना देना नहीं है। नगर में डीजे का व्यापार करने वाले व्यक्तियों पर यदि शासन प्रशासन ने लगाम लगाई होती तो शायद नगर की जनता को डीजे के प्रदूषण से बचाया जा सकता था लेकिन नगर की बिगड़ी कानून व्यवस्था को सुधारने के लिए शासन प्रशासन के कोई भी नुमाइंदे इसमे दिलचस्पी नहीं दिखा रहे जो लोगों के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है।


Share