चारौदा@छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री का वो सपना 22 साल लंबे इंतजार के बाद हुआ साकार

43
Share


चारौदा 08 जनवरी 2022 (ए)। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 22 साल लंबे इंतजार के बाद आज पहली बार नगर निगम भिलाई चरोदा के निगम कार्यालय में पहुंचे। मौका था इस नगर निगम के नवनिर्वाचित महापौर और सभापति के पदभार ग्रहण समारोह का। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि उनका सपना था कि इस निगम के कार्यालय में तभी प्रवेश करूँ, जब जनता हम पर पूरा भरोसा जताए। उनका यह सपना आज 22 साल लंबे इंतजार के बाद साकार हुआ। इस अवसर पर भिलाई चरोदा के महापौर निर्मल कोसरे और सभापति कृष्णा चंद्राकर ने पदभार ग्रहण किया। मुख्यमंत्री ने उन्हें शुभकामनाएं दीं।। उन्होंने अपने संबोधन में बताया कि उनका गृह क्षेत्र में निगम कार्यालय आने के उपरांत भी उनका सपना अब तक अधूरा था, आज यह पूरा हो गया है । इसके लिए उन्होंने इस क्षेत्र की जनता को शुभकामनाएं और धन्यवाद ज्ञापित किया ।
मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में नवनिर्वाचित महापौर और सभापति को आशीर्वाद देते हुए कहा कि जनता की जो भी अपेक्षाएं हो उसे पूरा करे। उन्होंने यह भी कहा कि जनता को यह महसूस करना चाहिए कि उनका निर्णय बिल्कुल सही रहा। उन्होंने कहा कि नगर निगम में आम जनता को अनेक काम के लिए आना होता है। जनता जो भी काम लेकर आती है उसे समय पर पूरा करें । मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि विकास के काम किसी भी दशा में नहीं रुकने चाहिए । सभी कामों को एकजुटता के साथ मिलजुल कर सेवा भाव से पूर्ण करें । जिससे जनता को सुखद अनुभूति होनी चाहिए।
संक्रमण के विस्तार पर नकेल आवश्यक
प्रदेश मे लॉकडाऊन और पीएम सुरक्षा के सवाल पर सीएम भूपेश ने कही यह बात
दुर्ग रवाना होने से पहले मुख्यमंत्री ने पुलिस लाइन हेलीपैड में पत्रकारों से चर्चा की। इस दौरान उन्होंने ने पीएम सुरक्षा, प्रदेश में कोरोना के बढ़ते संक्रमण सहित कई सवालों पर अपनी प्रतिक्रिया दीं।ष्टरू ने कहा कि कोविड की परिस्थिति पर हमारी नज़र बनी हुई है। मुझे नहीं लगता है कि अभी आर्थिक गतिविधियों पर पाबंदियां लगाने की ज़रुरत है और ना ही कंटेनमेंट जोन बनाने की ज़रुरत है। प्रदेश और देश में कोविड के हालात को देखकर हम आगे कोई फ़ैसला लेंगे


Share