अंबिकापुर@मेडिकल कॉलेज अस्पताल में बैलेस्टिक कार्डियोलॉजी तकनीक शुरू

41
Share

अंबिकापुर 31 दिसम्बर 2021 (घटती-घटना)। राजमाता देवेंद्र कुमारी सिंहदेव शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय संबद्ध जिला चिकित्सालय अंबिकापुर में नवाचार करते हुए अब आईसीयू में गंभीर मरीजों की देखभाल के लिए मरीज पर चिकित्सक सीधी नजर रख पाएंगे।बेंगलुरू स्थित आईटी कंपनी के द्वारा डोलजी नाम का एक डिवाइस प्रत्येक आईसीयू बिस्तर पर स्थापित किया गया है।यह बैलिस्टिक कार्डियोलॉजी टेक्निक एवं आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मरीजों के वाइटल पैरामीटर्स की जानकारी सुलभता से उपचार कर रहे चिकित्सक नर्स के मोबाइल पर 24 घंटा उपलब्ध रहेगा।
इस तकनीक का इस्तेमाल करने से अब मरीज के नजदीक जाकर उसका उपचार करने की आवश्यकता नहीं है। मरीज का उपचार 24 घंटे सलाह दे कर सकते हैं।
आईसीयू के मरीजों को अब तत्काल किसी भी परेशानी में चिकित्सक सुगमता से सलाह व उपचार दे पाएंगे साथ ही साथ उन पर सतत निगरानी रखी जा सकती है जोकि आईसीयू के लिए बहुत अहम होता है। इस तकनीक का इस्तेमाल फॉर्मूला वन रेसिंग कारों में भी किया जाता है जिसमें ड्राइवर की पूरी वाइटल पैरामीटर्स की जानकारी दूर बैठे मोबाइल यह कंप्यूटर पर देखी जा सकती है। बेंगलुरू स्थित कंपनी ने बताया कि इस तकनीक का उपयोग पूरे देश में लगभग 300 से ऊपर हॉस्पिटल कर रहे हैं और यह बेहद उन्नत तकनीक है जिसका उपयोग करके हम लाखों लोगों की जान बचा सकते हैं।


Share