नई दिल्ली @ देश पर संक्रमण की पड़ने लगी दोहरी मार

38
Share


कोरोना व ओमिक्रोन ने फिर पकड़ी रफ तार
24 घंटे 13,154 नए मामले, 268 मरीजों की मौत


नई दिल्ली ,30 दिसंबर 2021 (ए)। नया साल आते आते देश फिर से कोरोना संक्रमण की चपेट में आता नजर आ रहा है। मसलन कोरोना और कोरोना का नए वैरिएंट ओमिक्रॉन नए साल के जश्न को फीका तो कर ही रहा है, वहीं लोगों में इस दोहरे संक्रमण के संकट से दहशत का माहौल पैदा कर रहा है। देश में कोरोना के सक्रीय मरीजों की संख्या कम होने के बजाए अब बढ़कर 82,402 पहुंच गई हैं।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा गुरुवार को जारी आंकड़े के अनुसार बीते 24 घंटो में 13,154 नए मामले दर्ज किए गए हैं जो कि बुधवार की तुलना में लगभग 4000 अधिक है। इस प्रकार अब देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,48,22,040 हो गई। वहीं 268 और मरीजों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4,80,860 हो गई है। देश में बुधवार को कोरोना के 9,195 मामले सामने आए थे। वहीं देश में तेजी से बढ़ते कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन संक्रमितों की कुल संख्या भी दस हजार के आंकड़े के नजदीक पहुंच गई है। इसमें सबसे ज्यादा 263 मरीजों के साथ राष्ट्रीय राजधानी पहले स्थान पर है, जबकि महाराष्ट्र 252 मरीजों के साथ दूसरे स्थान पर है। गुरुवार को भारत में वीकली पॉजिटिविटी रेट 0.76 प्रतिशत है जो पिछले 46 दिनों से 1 प्रतिशत से कम है। डेली पॉजिटिविटी रेट 1.10 प्रतिशत है जो पिछले 87 दिनों से 2 प्रतिशत से कम है।
मुंबई में 82 फीसदी बढ़े कोरोना मामले
मुंबई में कोरोना संक्रमण के रोजाना मामले डराने लगे हैं। बीते 24 घंटे में यहां 2,510 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इस दौरान 251 लोग ठीक हुए हैं। इससे पहले यहां मंगलवार को 1377 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए थे। ऐसे में दो दिन में कोरोना के रोजाना मामलों में आई लगभग दोगुनी उछाल(82 फीसदी तेजी से) ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है। इसी के साथ मुंबई में कोरोना महामारी शुरू होने के बाद से अब तक कुल 7 लाख 75 हजार 808 केस आ चुके हैं, जबकि एक्टिव केसों की संख्या 8060 है। मुंबई में कुल 16 हजार 375 मौतें हुई हैं। शहर में फिलहाल रिकवरी रेट 97 फीसदी पर बना हुआ है।
मुंबई में धारा 144 लागू
महाराष्ट्र पुलिस ने राजधानी मुंबई में धारा 144 लागू कर दिया है। धारा 144 लगाने के बाद अब महानगर में न्यू ईयर सेलिब्रेशन के दौरान पुलिस ने 30 दिसंबर से सात जनवरी तक रेस्टोरेंट, होटल, बार, पब, रिसॉर्ट और क्लब सहित किसी भी बंद या खुली जगह में नए साल के जश्न, पार्टियों पर रोक लगा दी है।
कई शहरों में
बढ़े मामले
पिछले 24 घंटे में दिल्ली और मुंबई में मामलों की तेज वृद्धि देखी गई, जबकि गुरूग्राम, चेन्नई, कोलकाता, बेंगलुरु और अहमदाबाद सहित अन्य शहर भी पीछे नहीं हैं। 24 घंटे की अवधि में, मुंबई में बुधवार को कोविड के 2,510 मामले दर्ज किए, जो पिछले दिन के मुकाबले 82त्न ज्यादा हैं। इसी तरह के बड़े पैमाने पर, दिल्ली ने बुधवार को कोरोना वायरस के 923 मामले दर्ज किए। इस लिहाज से मंगलवार के मुकाबले ये 86 प्रतिशत ज्यादा मामले थे।
सात राज्यों में नाइट कफर््यू का एलान
कोरोना और ओमिक्रॉन वैरिएंट के बढ़ते मामलों को देखते हुए कई राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों- महाराष्ट्र, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, हरियाणा, गुजरात और मध्यप्रदेश ने रात का कर्फ्यू लगा दिया है और कोविड प्रोटोकॉल के नए दिशानिर्देश जारी कर दिए हैं।
90 फीसदी वयस्क आबादी को लगी पहली खुराक
मंत्रालय ने बताया कि भारत में कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन वैरिएंट के 961 मामले हैं, जिनमें से 320 मरीज ठीक हो चुके हैं। लव अग्रवाल ने कहा कि भारत में लगभग 90 प्रतिशत वयस्क आबादी को पहली खुराक के साथ कोरोना के खिलाफ टीका लगाया जा चुका है। कोरोना संक्रमण के बाद प्रतिरक्षा यानी इम्युनिटी के बारे में बात करते हुए, आईसीएमआर के महानिदेशक डॉ बलराम भार्गव ने कहा कि संक्रमण के बाद प्रतिरक्षा का स्थायित्व लगभग नौ महीने तक बना रहता है। अंतर्राष्ट्रीय और भारतीय अध्ययनों का हवाला देते हुए, डॉ भार्गव ने कहा, टीकाकरण के बाद की प्रतिरक्षा भी लगभग 9 महीने तक चलती है।


Share