नई दिल्ली @ सोनिया ने पार्टी पदाधिकारियों को पढ़ाया अनुशासन का पाठ

34
Share


नई दिल्ली ,26 अक्टूबर 2021 ( ए )। कांग्रेस शासित तीनों राज्यों में अंदरूनी कलह से परेशान पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कार्यसमिती के बैठक के बाद एक बार फिर से पदाधिकारियों को अनुशासन का पाठ पढ़ाते हुए कहा है कि उन्हें निजी महत्वकांक्षाओं से ऊपर उठते हुए पार्टी को मजबूत करने पर काम करना चाहिए।
कांग्रेस अध्यक्ष ने पार्टी पदाधिकारियों की बैठक में चिंता जाहिर करते हुए कहा है कि देश के जुड़े अहम मुद्दों पर कांग्रेस रोज बयान जारी करती है लेकिन वह जमीनी कार्यकर्ताओं तक नहीं पहुंचता है। सोनिया ने यह भी कहा कि नीतिगत मुद्दों पर राज्य स्तर के नेताओं में वैचारिक स्पष्टता और एकजुटता की कमी दिखती है। बता दें कि इससे पहले बीते हफ्ते हुई कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक के दौरान भी सोनिया गांधी ने कड़ा रुख अपनाते हुए पार्टी नेताओं को नसीहत दी थी कि वे मीडिया की बजाय सीधे उनसे बात करें। पार्टी महासचिवों, प्रदेश प्रभारियों और प्रदेश अध्यक्षों की बैठक में सोनिया गांधी ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा और पार्टी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि अगर लड़ाई जीतनी है तो जनता के समक्ष भाजपा तथा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के दुष्प्रचार एवं झूठ को बेनकाब करना होगा। उन्होंने कहा कि हमें भाजपा और आरएसएस के द्वेषपूर्ण दुष्प्रचार के खिलाफ लड़ना है। अगर यह लड़ाई जीतनी है तो हमें पूरे संकल्प के साथ यह करना होगा और जनता के समक्ष उनके झूठ को बेनकाब करना होगा।
पार्टी मुख्यालय में हुई इस बैठक में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा, संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल तथा अन्य महासचिव, प्रभारी एवं प्रदेश कांग्रेस कमेटियों के अध्यक्ष शामिल हुए। यह बैठक कांग्रेस कार्य समिति की बैठक में सदस्यता अभियान, महंगाई के मुद्दे पर जन-जागरण अभियान तथा संगठनात्मक चुनाव के तय किए गए कार्यक्रमों की पृष्ठभूमि में हुई है।


Share