बैकुंठपुर/खड़गवां @ मुख्यमंत्री को प्रदेश के लोगो के सुख-दुःख में शामिल होना उचित नहीं लगताः श्याम बिहारी

338
Share

यूपी की घटना पर बिना विलंब किए लखनउ पहुंच जाते,कुर्सी बचाने के लिए दिल्ली पहुंच जाते

बैकुंठपुर/खड़गवां 16 अक्टूबर 2021 (घटती-घटना)। छत्तीसगढ़ के पत्थलगांव में शुक्रवार की दोपहर घटित घटना को लेकर भाजपा किसान मोर्चा प्रदेशाध्यक्ष व मनेन्द्रगढ़ के पूर्व विधायक श्याम बिहारी जायसवाल ने कहा है कि यह दुर्घटना हृदय विदारक है। इस दुर्घटना में मृतक को मेरी विनम्र श्रद्धांजली अर्पित है। साथ ही माता रानी से मेरी प्रार्थना है कि शोकाकुल प्रियजनों को इस दुख की घडी को सहन करने संबल प्रदान करने के साथ ही घायलों को शीघ्र स्वास्थ्य लाभ प्रदान करने की कामना करता हूं।
यह पूरी घटना कहीं सोची समक्षी साजिश या फिर नशे के कारोबारियों में पुलिस प्रशासन का खौफ खत्म होना हो सकती है। आज पूरे प्रदेश में नशे के बढ़ते फलते फूलते व्यापार ने प्रदेश की स्थिति दयनीय बना दी है। जहां एक ओर प्रदेश की मंत्री भी मंच से शराब का सेवन करने और सो जाने की बात करती हों तो आप अंदाजा लगा सकते है, कि प्रदेश सरकार नशे के कारोबार की ब्रांडिंग भी कर रही है। घटना घटित होने के 24 घंटे बाद भी प्रदेश के मुख्यमंत्री का घटना स्थल में न पहुंचना और न ही किसी प्रकार की सहायता राशि की घोषणा करना उनकी असंवेदनशीलता को दर्शाता है। जबकि यही भूपेश बघेल जी उत्तर प्रदेश की घटना पर बिना विलंब किए वहां पहुचने के लिए लखनउ पहुंच जाते है और एयरर्पोट पर धरना देते नजर आते है और तो और 50 लाख की मुआवजा राशि प्रदान करने की घोषणा भी करते है। यह इनका दोहरा चरित्र है जो प्रदेश की जनता अब समझ चुकी है। प्रदेश के मुख्यमंत्री केवल अपनी कुर्सी बचाने के लिए दिल्ली में बैठे अपने नेताओं को खुश करने के लिए काम करते है उन्हे प्रदेश के लोगो के सुख-दुःख में शामिल होना उचित नहीं लगता है। मै प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मांग करता हूं कि इस दुखद घटना में मृतक के परिजनों को 1 करोड़ रूपए के साथ ही परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी व दुर्घटना में घायल हुए लोगों को 50 लाख रूपए की सहायता राशि यथाशीघ्र प्रदान करें।


Share