रायपुर @ बहुत दिनों बाद किसी मंत्री ने सुनी आम जनता की समस्या

32
Share


कृषि मंत्री रवींद्र चौबे को महज 1 घंटे में मिले 50 से ज्यादा आवेदन


रायपुर,12 अक्टूबर 2021 (ए)। प्रदेश के संसदीय कार्य, विधि एवं विधायी कार्य, कृषि एवं जैव प्रौद्योगिकी, पशुधन विकास, मछलीपालन, जल संसाधन मंत्री रविंद्र चौबे ने मंगलवार को प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मुख्यालय राजीव भवन आम लोगों की समस्याएं सुनी। मिलिये मंत्री के कार्यक्रम के अंतर्गत उन्होंने कांग्रेस पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं और आमजन से मुलाकात कर उनकी समस्याओं को सुना तथा उसका निराकरण किया।
लोगों के समस्याएं सुनकर मंत्री रवीन्द्र चौबे ने संवाददाताओं से भी मुखातिब हुए। इस दौरान उन्होंने कहा कि कांग्रेस के ऊपर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर उनकी आस्था है, इसलिए तो राजीव भवन में आकर के आवेदन देना चाहते हैं। आज भी मात्र 1 घंटे में लगभग 55-60 आवेदन आए है, जिसे मैं देखकर कुछ लोग से मुलाकात करूंगा।
धान खरीद केंद्र खोलने के लिए आवेदन
कृषि मंत्री ने कहा, मैं कृषि मंत्री हूं तो धान खरीदी केंद्र खोलने की भी बात का आवेदन है। कुछ जगह नया सोसायटी बनाने का भी आवेदन है। मैं सभी आवेदनों को ध्यान से पढ़ूंगा उसके बाद आगे बढ़ा जाएगा।

पढ़े-लिखे बेरोजगारों के नौकरी के आवेदन भी आए


मंत्री ने कहा कि कोई मंत्री लंबे समय के बाद बैठेगा, तो जाहिर है कि कुछ पढ़े-लिखे बेरोजगारों के नौकरी संबंधी भी आवेदन भी देखने को मिलेगा। यहां पर भी वहीं हुआ। उन्होंने आगे कहा, रायपुर शहर के लिए तो सबसे महत्वपूर्ण आवेदन जो आए हैं यहां के पुराने बस स्टैंड को नए बस स्टैंड में शिफ्टिंग किया जा रहा है।
जहां पुराने बस स्टैंड में अंदर के दुकानदार थे उन्हें चिन्हित करके उन्हें जगह देने की बात हो रही है लेकिन बाहर जो गरीब लोग ठेला लगा रहे थे वेंडर थे अभी व्यवस्थापन की बात नहीं हुई है, उनका भी आवेदन मिला है। मैं कमिश्नर को यहां निर्देश दिया हूं। कलेक्टर को भी निर्देश दूंगा। बुलाकर चर्चा भी करूंगा, गरीबों का अहित होनी ही नहीं दिया जाएगा, उनको भी जगह मिलेगा, रोजगार करने का अवसर मिलेगा, सभी प्रकार के आवेदन आ रहे हैं और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर मैंने शुरुआत की है रोस्टर बनाएंगे और सभी मंत्री क्रमश आकर के राजीव भवन में आम लोगों की समस्यायें सुनेंगे।

ऐसे आवेदन भी आए


जिलों में राशन की समस्या के बारे में।
जिलों में राशन कार्ड के बारे में है।
व्यवस्थापन का आवेदन है।
नामांतरण का आवेदन है।
विस्थापन का आवेदन है।


Share