खड़गवां@वटवृक्ष की शाखाओं के माफिक जमें है अवैध कब्जा धारी,कॉन्क्रीट के दुकान बना कर किया कब्जा

99
Share

तहसीलदार दे चुके है हटाने की नोटिस पर हटाने को तैयार नहीं

राजेन्द्र शर्मा-


खड़गवां 12 अक्टूबर 2021 (घटती-घटना)। कोरिया जिले के क्लेक्टर श्याम धावड़े ने अधिकारियों की बैठक में हो रहे अवैध निर्माण कार्यों पर प्रतिबंध लगाने व जनता के हित में हो रहे कार्यों को प्राथमिकता से करने के निर्देश दिये है। जिसे पूरा करते हुए राजस्व अधिकारियों ने पहले खड़गवां स्वास्थ्य केन्द्र परिसर के सामने हुए अतिक्रमण को हटाया गया। मगर एक दुकानदार जिसके द्वारा आज लगभग दो से तीन माह हो गये इस दुकानदार का अतिक्रमण नहीं हटाया गया और खड़गवां के अस्पताल परिसर के सामने ये दुकानदार शासकीय जमीन पर अंगद की पांव की तरह जमा हुआं है। जबकि एसडीएम व तहसीलदार ने दर्जनों भर से अधिक अतिक्रमण धारियों को हटा दिया किन्तु एक सिंगार स्टोर के दुकानदार को हटाने में प्रशासन नाकाम होता दिखाई दे रहा है।
स्थानीय ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि स्वास्थ्य केन्द्र परिसर के सामने गरीब तबके के छोटे ठेला धारीयो को हटा दिया गया मगर इस सिंगार दुकानदार को जो पक्का कांक्रीट से निर्मित दुकान बनाकर आज भी दुकान का संचालन कर रहा है क्या इसे राजनीतिक दल या पार्टी का संरक्षण प्राप्त है जो गरीबों पर तत्काल कार्यवाही हुई और प्रशासन के द्वारा इस दुकानदार को विशेष छूट दी गई है क्या? जो पूर्व में अस्पताल परिसर के सामने अवैध रुप से दुकानों का संचालन किया जा रहा था, प्रशासन ने हटाया है।
इस दौरान सभी व्यपारी चौपाटी में चले गए। किन्तु सिंगार दुकान का संचालक के द्वारा नियमों को ताक में रख कर जमा हुआ है। बाजार में चर्चा हो रही है कि सिंगार दुकान संचालक अपने आप को राजनीतिक रसूखदार बताता है। जिस कारण इस पर कार्यवाही करने में प्रशासन के भी हाथ पांव फूल रहे है।
जबकि एसडीएम, नायब तहसीलदार ने मौके पर पहुंचकर अवैध अतिक्रमण किए गए दुकानों के लिए ग्राम पंचायत से अटल चौक के पास चौपाटी बनाने को कहा था। हॉस्पिटल के सामने जितने भी ठेले व गुमटी हैं उन्हें चौपाटी में प्रतिस्थापित करने के निर्देश दिए थे। किन्तु सिंगार दुकान के संचालक के द्वारा नहीं हटाया गया है और स्वास्थ्य केन्द्र के मेन गेट पर होने के कारण मुख्य मार्ग पर कुछ दिखाई नहीं देता है जिससे कई बार दुघर्टना होते होते बची है।


ने कहां हॉस्पिटल के अगल-बगल अतिक्रमण किए गुमटी व ठेले वालों को कई बार नोटिस दिया जा चुका है एक दुकान अभी भी नहीं हटा है उस पर कार्यवाही की जाएगी।
सुधीर खलखो
तहसीलदार


Share