रामानुजगंज@नगर पंचायत ने किया वृद्ध दिवस कार्यक्रम का आयोजन

26
???????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????????
Share


घर-परिवार में सुलभ सहायता मिले तो जीवन होता हैं आसानःरमन अग्रवाल

रामानुजगंज 01 अक्टूबर 2021 (घटती-घटना)। अंतरराष्ट्रीय वृद्ध दिवस के अवसर पर नगर पंचायत रामानुजगंज के द्वारा वार्ड क्रमांक 13 में स्थित पंडित दीनदयाल उपाध्याय मांगलिक भवन में सम्मान समारोह का आयोजन कर बुजुर्ग पुरुषों एवं महिलाओं को अंग वस्त्र प्रदान कर उन्हें सम्मानित किया गया।
कार्यक्रम का शुभारंभ नगर पंचायत अध्यक्ष रमन अग्रवाल एवं उपाध्यक्ष बजरंग गुप्ता के द्वारा भारत माता के छायाचित्र पर माल्यार्पण करते हुए दीप प्रज्वलित कर किया गया। तत्पश्चात उपस्थित बुजुर्ग पुरुषों एवं महिलाओं को तिलक लगाते हुए उनको अंग वस्त्र के रूप में सफेद कलर का गमछा प्रदान कर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर रमन अग्रवाल ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहां की जीवन में एक पड़ाव ऐसा भी आता है,जब हमे सहायता की आवश्यकता होती है।घर-परिवार में यह सहायता सुलभ तरीके से मिल जाती है,इससे जीवन आसान हो जाता है। भारत सरकार और राज्य सरकार भी ऐसे लोगों के जीवन को आसान बनाने के लिए कई प्रकार की योजनाओं का संचालन और छूट प्रदान करती है 7 सभी वरिष्ठ नागरिक जिनकी आयु 60 वर्ष पूरी हो चुकी है,वह इस प्रकार की योजनाओं का लाभ ले सकते है। उन्होंने कहा कि उपस्थित वरिष्ठ नागरिकों से मेरा अनुरोध है कि अपने बैठने एवं अन्य गतिविधियों के लिए नगर के कहीं पर भी जो स्थान तय करेंगे उसी स्थान पर नगर पंचायत की ओर से उचित व्यवस्था करने का पूरा प्रयास किया जाएगा। क्योंकि नगर विकास के लिए वरिष्ठ नागरिकों का मार्गदर्शन अति आवश्यक है। कार्यक्रम में मुख्य नगरपालिका अधिकारी दीपक एक्का पार्षदों में उमेश सिंह गहरवार,अशोक गोड़,श्रीमती ललिता कश्यप,विजय रावत,अशोक जयसवाल,मुकेश जयसवाल, राजेश सोनी,श्रीमती उषा गुप्ता,एल्डरमैन रामजी वर्मन, वरिष्ठ नागरिकों में सुभाष केसरी,अशोक केसरी,शंभू जयसवाल,शिव अग्रवाल,हरवंश मेहता प्रमोद कश्यप सहित तीन सौ से ऊपर लोग कि उपस्थित रही नगर पंचायत कर्मचारियों मे उपयंत्री विनोद यादव,सहायक राजस्व निरीक्षक अजय गुप्ता, जगदीश राम,जगरनाथ गुप्ता,विनोद केशरी सहित अन्य कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

आपके साथ भी वही होगा जो आपने अपने बुजुर्गों के साथ किया

अंतरराष्ट्रीय वृद्ध दिवस को अंतरराष्ट्रीय बुजुर्ग दिवस, अंतरराष्ट्रीय वरिष्‍ठ नागरिक दिवस, विश्व प्रौढ़ दिवस, अंतरराष्ट्रीय वृद्धजन दिवस भी कह सकते हैं। यह प्रतिवर्ष 01 अक्टूबर को मनाया जाता है। देश में बुजुर्गों की आबादी साल 1961 से लगातार बढ़ रही है। 1991 में 60 वर्ष से अधिक आयु के 5 करोड़ 60 लाख व्यक्ति थे, जो 2007 में बढ़कर 8 करोड़ 40 लाख हो गए। आंकड़ों के मुताबिक साल 2021 में बुजुर्गों की संख्या 13.8 करोड़ पर पहुंच गयी है।
संयुक्त राष्ट्र ने विश्व में वृद्धों के प्रति हो रहे दुर्व्यवहार और अन्याय के प्रति लोगों को जागरुक करने के लिए 14 दिसम्बर,1990 को यह निर्णय लिया कि हर साल 1 अक्टूबर’ को अंतरराष्ट्रीय बुजुर्ग दिवस के रूप में मनाया जाए। इस दिवस के माध्यम से बुजुर्गों को सम्मान और अधिकार दिलाने का प्रयास किया जाएगा। इसके बाद 1 अक्टूबर,1991 को पहली बार अंतरराष्ट्रीय बुजुर्ग दिवस मनाया गया। तभी से यह क्रम जारी है।


Share