विगत 12 वर्षों सेबंदियों को शिक्षा की मुख्य धारा से जोड़ने का काम कर रहीं हैं जेल की महिला शिक्षिका

154
Share

बैकु΄ठपुर 30 सितम्बर 2021 (घटती-घटना)। 30 सितम्बर 2021 को जिला जेल बैकुंठपुर में पढ़ना लिखना महापरीक्षा अभियान अंतर्गत जेल में निरुद्ध बंदियों व कैदियों की दक्षता परीक्षा आयोजित की गई। यह महापरीक्षा वैसे तो जिले में कई जगह आयोजित की गई लेकिन जेल परिसर के अंदर वर्षों से शिक्षा की अलख कैदियों व बंदियों के बीच जगा रही महिला शिक्षिका श्रीमती विवेक सिद्दीकी ने जेल के भीतर यह महापरीक्षा आयोजित करते हुए कैदियों व बंदियों को परीक्षा में सम्मिलित कराकर अभियान को सफल भी बनाया वहीं उन्होंने कैदियों व बंदियों के प्रति अपनी शिक्षा की अलख जगाने के प्रयासों को भी पहुंचाया।
बता दें कि श्रीमती विवेक सिद्दीकी 12 वर्षों से जिला जेल के कैदियों व बंदियों को शिक्षा की मुख्यधारा से जोड़े रखने का कार्य कर रहीं हैं,और वह नियमित रूप से जेल परिसर में जाकर प्रतिदिन कैदियों व बंदियों को पढ़ाई लिखाई के प्रति प्रेरित करती आ रहीं हैं। जिला जेल की महिला शिक्षिका का जेल में निरुद्ध बंदियों व कैदियों के बीच जाकर उन्हें शिक्षा की मुख्यधारा से जोड़े रखने के कार्य से आज तक कई कैदी व बंदी 10 वीं 12 वी व कालेज तक कि परीक्षा में उतीर्ण हो चुके हैं और शिक्षिका का प्रयास रहता है कि जो निरक्षर हैं वह पढ़ना लिखना सीख सकें वहीं जो कुछ पढ़े लिखे हैं वह आगे का अध्धयन जारी रखें व सफल होते रहें, क्योंकि जब वह अपनी सजा काटकर बाहर जाएं उन्हें अपने जेल में निरुद्ध समय मे ली गई शिक्षा काम आ सके। जिला जेल के वर्तमान जेल अधीक्षक विक्रम गुप्ता हैं।


Share