हाथी के हमले में युवक की मौत,गुस्साए ग्रामीण महिलाओं ने रेंजर का पकड़ा कॉलर

185
Share

अंबिकापुर/प्रतापपुर 29 सितम्बर 2021(घटती-घटना)। सूरजपुर जिले के प्रतापपुर वन परिक्षेत्र अंतर्गत हाथी व मानव के बीच संघर्ष जारी है। इसी कड़ी में मंगलवार की रात काम खत्म कर घर लौट रहे साइकिल सवार युवक को बहरादेव हाथी ने मार डाला। सुबह युवक की लाश सड़क पर पड़ी देख ग्रामीणों का गुस्सा फूट पड़ा और उन्होंने वन विभाग को सूचना देकर पोड़ी-प्रतापपुर मार्ग पर चक्काजाम कर दिया।
सूचना पर रेंजर वन अमले के साथ मौके पर पहुंचे तो घटना से आक्रोशित महिलाओं ने उनका कॉलर पकड़कर झूमाझटकी की। जैसे-तैसे उन्हें महिलाओं से छुड़ाया गया। ग्रामीणों के आक्रोश को देखते हुए डीएफओ भी मौके पर पहुंचकर समझाइश देने में जुटे हैं।
गौरतलब है कि पिछले 1 महीने के भीतर प्रतापपुर वन परिक्षेत्र अंतर्गत हाथियों ने 4 लोगों पर हमला कर मार डाला है। मंगलवार की रात करीब 11 बजे ग्राम सरहरी के पतरापारा निवासी नारायण पिता रामचंद्र 35 वर्ष काम खत्म करके साइकिल से घर जा रहा था।
इसी बीच गांव के ही देवलाल के घर के पास बहरादेव हाथी से उसका सामना हो गया। इस दौरान हाथी ने उसे सूंड से उठाकर जमीन पर पटक दिया। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। सुबह करीब 6 बजे ग्रामीणों ने उसकी लाश सड़क पर पड़ी देखी तो गांव में हो-हल्ला मच गया। सूचना पर करीब 9 बजे रेंजर कमलेश राय अमले के साथ मौके पर पहुंचे। इस दौरान आक्रोशित महिलाओं ने उनका कॉलर पकड़कर झूमाझटकी की। जैसे-तैसे वहां मौजूद लोगों ने उन्हें छुड़ाया।
सड़क पर किया चक्काजाम
हाथी के हमले में युवक की मौत से गुस्साए काफी संख्या में महिला-पुरुषों ने सरहरी-प्रतापपुर मार्ग का पूरी तरह जाम कर दिया। उन्होंने मृतक के घर के एक सदस्य को नौकरी तथा मुआवजा देने की मांग की। उन्होंने वन विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।


Share