विधायक समर्थक ने भाजपा बचाओ मंच बताया, उसी मंच पर कांग्रेसी बैठ कर समर्थन दिये

198
Share


विधायक समर्थक ने कोरिया जिला बचाव मंच को कहा भाजपा बचाव मंच


मनेंद्रगढ़ जिले का समर्थन करते हुए लिखा भाजपा आपस मे नफरत फैलाने का कर रही है काम

रवि सिंह –


बैकु΄ठपुर 23 सितम्बर 2021 (घटती-घटना)।विधायक समर्थक ने सोसल मीडिया पर एक पोस्ट साझा करते हुए लिखा है कि भाजपा कोरिया जिला बचाव मंच के माध्यम से अपना खोया जनाधार वापस पाने का प्रयास कर रही है वहीं इस धरने की कोई जरूरत नहीं उनका सपष्ट कहना है। उन्होंने यह भी लिखा है कि कोरिया जिले के भाजपा नेताओं ने मनेंद्रगढ़ चिरिमिरी वासियों के साथ हमेशा अन्याय किया है वहीं अब वह चिरिमिरी मनेंद्रगढ़ जिले की घोषणा के बाद आपस मे एक दूसरे को लड़ाने का काम कर रहें हैं और आपसी विद्रोह उत्तपन्न करना चाह रहें हैं जबकि कोरिया जिला बचाव मंच की मांग है कोरिया जिले में खड़गवां व सोनहत बैकुंठपुर विकासखण्ड को शामिल रखते हुए जिला रहने दिया जाय और खड़गवां, सोनहत बैकुंठपुर कोरिया जिले में ही शामिल रहने वालें हैं और इसके बावजूद भाजपा के लोग बेवजह झूठा श्रेय लेने भिड़े हुए हैं।


खड़गवां विकासखण्ड बैकुंठपुर में शामिल रहने वाला है यह कैसे पता चला इन्हें सवाल


खड़गवां विकासखण्ड कोरिया जिले में ही बना रहे यह खड़गवां की जनता का तो मन है लेकिन अभी तक जिस तरह की बातें सामने आ रहीं हैं उससे लगता नहीं मनेंद्रगढ़ जिले के लोग खड़गवां को खुद से अलग जाने देंगे, ऐसे में विधायक समर्थक का खुलेआम सोसल मीडिया पर यह कहना कि खड़गवां विकासखण्ड कोरिया जिले में ही शामिल रहेगा यह कई प्रश्नों को जन्म देने जैसा विषय हो गया है। यदि विधायक समर्थक को पूरी तरह पता है और ऐसा होने वाला है तो घोषणा करते हुए आंदोलन समाप्त क्यों नहीं करा रहा जिला प्रशासन यह समझ से परे।
विधायक स्वयं समर्थन देने पहुंची थी कोरिया जिला बचाव मंच को-कोरिया जिला बचाव मंच को लेकर जिस तरह का सोसल मिडीया पोस्ट विधायक समर्थक ने किया है उससे यह सवाल भी उठता है कि जब यह मंच भाजपा का है तो मंच को समर्थन देने स्वयं क्षेत्रीय विधायक पूरे जिला मुख्यालय के पदाधिकारियों सहित क्यों पहुंची थीं वहीं कोरिया जिला बचाव मंच का गठन करते समय स्पष्ट कहा भी गया था कि यह गैर राजनीतिक मंच है और यह जिले की अस्मिता के लिए बना मंच है फिर ऐसे में विधायक समर्थक का इस तरह से मंच का सार्वजनिक रूप से आलोचना किया जाना कहाँ तक जायज है। विधायक स्वयं मंच पर जाकर एक दिन का अपना समर्थन जिले की अस्मिता को लेकर जब दे चुकीं हैं तो समर्थक का यह बयान क्यों और किस आधार पर जारी किया गया यह भी सोचने वाला विषय है।


विधायक समर्थकों के सोसल मिडीया पोस्ट से उलझने हैं बढ़ती


बैकुंठपुर विधायक समर्थक लगातार ऐसे पोस्ट सोसल मिडीया पर पोस्ट कर अपने ही विधायक व पार्टी को असमंजस में डाल देते हैं जिनका सच्चाई से कोई वास्ता नहीं रहता, ताजा मामला भी कुछ ऐसा ही है, जिले का विभाजन हुआ, बैकुंठपुर जिला मुख्यालय के लोग अपनी मांग अपने जिले की अस्मिता के सम्मान के लिए शांतिपूर्ण तरीके से धरना दे रहें हैं वहीं अभी तक के 1 माह से ज्यादा समय से जारी धरना प्रदर्शन में सभी दलों के लोगों का समर्थन भी मंच को मिलता आया है, कोरिया जिला के लोग या बैकुंठपुर जिला मुख्यालय के लोग मनेंद्रगढ़ जिले की घोषणा के बाद से एकबार भी मनेंद्रगढ़ वासियों को लेकर कोई गलत बयानबाजी भी नहीं किया गया। अब इसके बावजूद कोरिया जिला मुख्यालय के लोगों के सार्वजनिक मंच कोरिया जिला बचाव मंच को भाजपा का मंच कहना, मनेंद्रगढ़ चिरिमिरी के लोगों के प्रति गलत भावना रखने वाला उनके दुःख का कारण होना बताना कहाँ तक जायज कहा जा सकता है। विधायक समर्थक द्वारा इस पोस्ट के माध्यम से भले ही भाजपा पर निशाना साधने का प्रयास किया गया हो लेकिन यह निशाना शहरवासियों को आक्रोशित कर जाएगा इसका अंदाजा शायद विधायक समर्थक नहीं लगा पाए। वैसे भी कोरिया जिले की घोषणा व बैकुंठपुर मुख्यालय कांग्रेस सरकार व कांग्रेस के ही विधायकों के कार्यालय की घोषणा रही है व इसके लिए भाजपा पर दोषारोपण भी गलत ही है।


Share