अम्बिकापुर /जयनगर@रहस्यमय ढंग से लापता मैनेजर घाट पेंडारी से बरामद,रची थी अपहरण की झूठी कहानी

65
Share

पुलिस ने 16 लाख रुपए बरामद कर किया गिरफ्तार

अम्बिकापुर /जयनगर 15 जनवरी 2022 (घटती-घटना)। रहम्य ढंग से लापता व्यापारी के मैनेजर को सूरजपुर पुलिस ने सकुशल चंदौरा थाना क्षेत्र अंतर्गत घाट पेंडारी से बरामद कर लिया गया है। वह रुपयों की लालच में अपनी झूठी खानी रची थी। पुलिस ने उसके खिलाफ कार्रवाई कर जेल दाखिल कर दिया है। वहीं वसूली के 16 लाख रुपया भी बरामद कर लिया गया है।
सूरजपुर एएसपी हरीश राठौर ने शनिवार को मामले का खुलासा करते हुए बताया कि अंबिकापुर स्कूल रोड निवासी 40 वर्षीय मनोज कुमार बंसल पिता स्व. टेकचंद बंसल द्वारा अंबिकापुर महामाया चौक के पास स्थित सुभाष अग्रवाल के मारुति ट्रेडर्स में मैनेजर के पद पर पिछले 4-5 वर्षों से कार्य कर रहा था।
मैनेजर मनोज बंसल गुरुवार की सुबह स्विफ्ट कार क्रमांक सीजी 15 डीएम-9990 में हमेशा की तरह सूरजपुर जिले के अलग-अलग काउंटर से ऑर्डर व राशि की वसूली करने आया था। यहां पर मनोज बंसल ने गुरुवार की रात कार को ग्राम पंचायत तेलईकछार शशिपुर के पास छोड़कर मनगढ़ंत तरीके से अपने अपहरण की कहानी बनाकर रुपए से भरे बैग, मोबाइल व गाड़ी की चाबी को लेकर फरार हो गया था।
मैनेजर के मोबाइल से संपर्क न होने पर महाजन सुभाष अग्रवाल द्वारा किसी अनहोनी की आशंका पर परिजन से संपर्क किया गया लेकिन कोई जानकारी उपलब्ध न होने पर उसने बिश्रामपुर निवासी अपने रिश्तेदारों को भी सूचित किया। रिश्तेदार द्वारा पतासाजी किए जाने पर कार को शशिपुर में एनएच 43 किनारे संदिग्ध परिस्थितियों में बरामद कर बंसल की तलाश शुरू की गई।
सूचना पर पुलिस ने कार को जब्ती पश्चात युवक की खोजबीन शुरू कर दी। पुलिस अधीक्षक भावना गुप्ता के मार्गदर्शन में एएसपी हरीश राठौर व सीएसपी जेपी भारतेन्दु के नेतृत्व में अलग-अलग टीम द्वारा तलाश प्रारंभ किया गया।
शनिवार को तड़के मैनेजर बंसल ने पत्नी निशा को मोबाइल के माध्यम से खुद को सूरजपुर जिले के चंदौरा थाना क्षेत्र अंतर्गत घाट पेंडारी में होने की बात कही। पत्नी द्वारा तत्काल पुलिस को उक्त जानकारी से अवगत कराया गया और पुलिस ने परिजन के साथ घाट पेंडारी नवाधक्की पहुंचकर मैनेजर को बरामद कर थाने ले आई।
पूछताछ के दौरान युवक ने पुलिस को बताया कि वह जुआ व सट्टा में काफी पैसा हार चुका है, जिस वजह से आर्थिक स्थिति खराब होने से 16 लाख रुपए अलग-अलग काउंटर से वसूलने उपरांत अपने अपहरण की झूठी कहानी तैयार की थी। मैनेजर की निशानदेही पर पुलिस ने वसूली के 16 लाख रुपए नगद को बरामद कर लिया है।


Share