रायपुर @ कालीचरण को 14 दिनों की न्यायायिक हिरासत में भेजा गया जेल

44
Share


रायपुर, 31 दिसम्बर 2021 (ए)। रायपुर में आयोजित धर्म संसद में महात्मा गांधी को अपशब्द कहने वाले कालीचरण बाबा को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में कोर्ट ने जेल भेज दिया है। बाबा कालीचरण आगामी 13 जनवरी तक जेल में रहेंगे। यह फैसला प्रथम श्रेणी न्यायायिक मजिस्ट्रेट चेतना ठाकुर ने सुनाया है। वहीं कालीचरण महाराज की जमानत के लिए जिला न्यायाधीस के यहां आवेदन लगाया गया है जिसकी सुनवाई तीन जनवरी को होगी जिसके बाद यह तय होगा कि कालीचरण महराज को जमानत मिलेगी या नही।
ज्ञात हो कि कालीचरण महाराज को रायपुर पुलिस गुरूवार को मध्यप्रदेश के खजुराहो से गिरफ्तार कर लाई थी और देर शाम को न्यायालय में पेश किया था। जहां कालीचरण महराज को दो दिनों की पुलिस रिमांड में भेजा गया था। किंतु पुलिस ने कालीचरण को शुक्रवार को पुनः मजिस्ट्रेट चेतना ठाकुर की बेंच में पेश किया गया जहां उन्हें आगामी 13 जनवरी तक न्याययिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।
मिली जानकारी के अनुसार पुलिस रिमांड में बाबा से पूछताछ की गई। पूछताछ के दौरान बाबा ने अपना वास्तविक नाम अभिजीत सराग बताया है। बाबा ने सरकारी दस्तावेजों में कालीचरण धनंजय सराग नाम होने की जानकारी दी है। पूछताछ के दौरान यह भी बताया कि वह 25 सालों से घूम-घूम कर प्रवचन करता है। धर्म संसद के बारे में पूछे जाने पर कालीचरण बाबा ने बताया कि धर्म संसद के लिए उसे निलकंठ त्रिपाठी ने निमंत्रण दिया था। 26 दिसंबर को आयोजित धर्म संसद में व्याख्यान देने के बाद रात को ट्रेन से खजुराहो चला गया। जहां वह पल्लवी गेस्ट हाउस में रुका और उसके बाद उसने रहने की जगह बदलकर बागेश्वर धाम के पास किराए से रूम लेकर मोबाइल नंबर बंद कर दिया था। साथ ही यह भी बताया कि उसका कोई आश्रम और ट्रस्ट नहीं है।


Share