बैकुण्ठपुर @शासन का जन समस्या निवारण जिला स्तरीय शिविर सम्पन

180
Share

जिला पंचायत अध्यक्ष,उपाध्यक्ष,जनपद अध्यक्ष उपाध्यक्ष सहित अन्य जनप्रतिनिधि हुए शामिल

बैकुण्ठपुर 28 दिसम्बर 2021 (घटती-घटना)। कोरोना महामारी की वजह से प्रतिवर्ष आयोजित होने वाला जन समस्या निवारण शिविर दो वर्षों बाद आज कोरिया जिले के ग्राम पंचायत पटना के समीप स्थित पर्यटन विभाग के मोटल परिसर में संपन्न हुआ जिसमें जहां एक तरफ जिले सहित क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों ने अपनी उपस्थिति प्रदान की वहीं जिले के जिलाधीश सहित जिले के समस्त विभागों के अधिकारियों कर्मचारियों के साथ विकासखण्ड स्तर के भी अधिकारी व कर्मचारियों ने भाग लिया।
कलेक्टर श्याम धावड़े के मार्गदर्शन में जिला प्रशासन के व्यक्तिगत वनाधिकार पत्रक पुनर्समीक्षा शिविर सह कलेक्टर जनचौपाल को जनता का बेहतर प्रतिसाद मिल रहा है। 28 दिसंबर को मोटल भवन, पटना में आयोजित व्यक्तिगत वनाधिकार पत्रक पुनर्समीक्षा शिविर सह कलेक्टर जनचौपाल में 498 पूर्व निरस्त वनाधिकार पत्रकों की समीक्षा की गयी। शिविर में सामुदायिक वनाधिकार पट्टे का वितरण किया गया।
पुर्नसमीक्षा शिविर में जिला पंचायत अध्यक्ष रेणुका सिंह, जिला पंचायत उपाध्यक्ष वेदांती तिवारी, जिला पंचायत सदस्य विजय राजवाड़े, श्रीमती सुनीता कुर्रे, जनपद पंचायत बैकुण्ठपुर की अध्यक्ष श्रीमती सौभाग्यवती कुसरो, जनपद पंचायत उपाध्यक्ष श्रीमती आशा साहू, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी कुणाल दुदावत सहित समस्त विभाग के जिला अधिकारी एवं बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित थे। शिविर में कलेक्टर श्याम धावड़े ने मौजूद ग्रामीण जनता को वन अधिकार अधिमान्यता नियम 2006 की जानकारी दी। इसी के साथ उन्होंने जाति प्रमाण पत्र, किसान क्रेडिट कार्ड के संबंध में लगाये जा शिविरों का भी लाभ लेने की बात कही। उन्होनें कहा कि जनता की मदद के लिए ये शिविर आयोजित किये जा रहे है। इनका लाभ उठाए और बेहतर प्रशासन में हमारा सहयोग करें। धान खरीदी के संबंध में कलेक्टर श्री धावड़े ने किसानों से आग्रह किया कि उपार्जन केंद्रों में गुणवत्ता पूर्ण धान लाएं जिससे विक्रय के दौरान कोई परेशानी ना हो। उन्होंने कोविड टीकाकरण महाभियान में सहयोग करने के लिए आम जन से अपील की।

35 दिव्यांगजनों को मिला सहायक उपकरण

शिविर में बैकुण्ठपुर विकासखण्ड के अंतर्गत दिव्यांगजनों को सहायक उपकरण प्रादन किये गए। 35 दिव्यांगजनों को उनकी आवश्यकता के अनुसार मोटराइज्ड साईकल, व्हीलचेयर, ब्लाइंड स्टिक, श्रवण यंत्र, ट्राईसाईकल, और बैसाखी का वितरण किया गया। शिविर में आये ग्राम पटना के सुल्तान अंसारी को ब्लाइंड स्टिक उपलब्ध कराई गई है। सुल्तान ने बताया कि उनकी आंखों की रोशनी बेहद कमजोर है जिससे उन्हें आते-जाते वक्त रास्ते को समझने को बेहद मुश्किल होती है। शिविर में उन्हें निःशुल्क सहायक उपकरण के रूप में ब्लाइंड स्टिक मिली है जिससे उन्हें मदद मिलेगी।ग्राम चिरगुड़ा की बबिता को शिविर में निःशुल्क ट्राईसाईकल मिली। ट्राईसाईकल मिलने से बबिता के चेहरे पर आई हंसी ने जिला प्रशासन द्वारा आयोजित इन शिविरों की सार्थकता को मजबूत बनाया। ट्राईसाईकल मिलने से अब बबिता को आवागमन में आसानी होगी और किसी पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा। शिविर में ग्राम पंचायत कसरा से आयी साधना यादव ने बताया कि आवागमन में समस्या होती है, मुझे मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल मिलने से मेरी यह समस्या दूर हुई है। ग्राम तरगवा से आए मनोज कुमार साहू ने बताया कि मैं एम.ए. तीसरे वर्ष में हूं। दिव्यांगता के कारण आने-जाने में मुश्किल होती है, आज शिविर में मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल मिलने से मैं अब मैं स्वयं सक्षम हूं।
शिविर में 10 हितग्राहियों को किसान क्रेडिट कार्ड, 33 बच्चों को स्थायी जाति प्रमाणपत्र वितरित किए गए। राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना के तहत 12 ग्राम पंचायतों के 25 हितग्राहियों को सहायता राशि दी गई। मत्स्य पालन विभाग के द्वारा 07 हितग्राहियों को महाजाल एवं आइसबॉक्स का वितरण किया गया। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा 06 महिलाओं का गोदभराई, 06 बच्चों का अन्नप्राशन किया गया एवं नोनी सुरक्षा योजना के तहत 10 बच्चों को प्रमाणपत्र वितरित किए गए।
शिविर में 24 हितग्राहियों को इंदिरा गांधी राष्ट्रीय विधवा पेंशन योजना, 82 हितग्राहियों को इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना, 100 हितग्राहियों को मुख्यमंत्री पेंशन योजना, 03 हितग्राहियों को इंदिरा गांधी राष्ट्रीय दिव्यांग पेंशन योजना, 10 हितग्राहियों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना, 09 हितग्राहियों को सुखद सहारा पेंशन योजना के तहत सहायता राशि दी गई। 24 हितग्राहियों को राशन कार्ड वितरण, कृषि विभाग द्वारा 17 हितग्राहियों को स्प्रेयर किट वितरण, 02 हितग्राहियों को चना बीज वितरण, 05 को सरसों बीज वितरण, 09 को वर्मी कम्पोस्ट वितरण किया गया। समाज कल्याण विभाग द्वारा 39 हितग्राहियों को बैसाखी, ब्लाइंड स्टिक, मोटराइज्ड ट्रायसिकल, श्रवण यंत्र, व्हीलचेयर, ट्राइसाइकिल वितरित किए गए। राजस्व विभाग द्वारा 17 हितग्राहियों को वन अधिकार पट्टा एवं 35 को किसान किताब पत्र दिए गए।श्रम विभाग द्वारा 02 हितग्राहियों को मुख्यमंत्री निर्माण श्रमिक मृत्यु एवं दिव्यांग सहायता योजना के तहत 2 लाख रुपये, मेधावी छात्र-छात्रा शिक्षा प्रोत्साहन योजना के तहत 10 हजार 500 रुपये का चेक एवं 20 हितग्राहियों को पंजीयन कार्ड वितरित किया गया।


Share