कोरबा@26 दिसम्बर को ठेका कर्मचारियों के द्वारा एक दिवसीय धरना प्रदर्शन

53
Share

कोरबा 22 दिसम्बर 2021 (घटती-घटना)। विद्युत विभाग में कार्यरत ड्रिस्टिब्यूशन, ट्रांसमिशन, जनरेशन के 25000 ठेका कर्मचारी 26 दिसम्बर को आंदोलन में शामिल होकर, एक दिवसीय धरना प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री निवास का घेराव करेंगे। प्रथम चरण में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन एवं मुख्यमंत्री निवास घेराव का कार्यक्रम रखा गया हैं, जो कि रायपुर बूढ़ा तालाब इंडोर स्टेडियम के पास रखा गया है।विद्युत विभाग में कार्यरत ठेका कर्मचारी विगत 15 वर्षो से कार्यरत हैं जो शोषित होते आ रहें हैं। विद्युत विभाग ठेका कर्मचारी कल्याण संघ ने मुख्यमंत्री से मांग की है कि चुनावी घोषणा पत्र के अनुसार ठेका प्रथा बंद करने पर अमल करें । पूरे छत्तीसगढ़ विद्युत विभाग में कार्यरत ठेका कर्मचारी जैसे सब स्टेशन,एफ ओ सी, मेंटेनेंस ठेका कर्मचारी,कंप्यूटरऑपरेटर,ड्राइवर, अन्य टेक्निकल में कार्यरत 80त्न ठेका कर्मचारियों को कलेक्टर दर पर सही पेमेंट नहीं मिलता है और 50त्न कर्मचारियों का ईपीएफ जमा नहीं किया जाता। कार्य के दौरान दुर्घटना हो जाने या मृत्यु हो जानें पर ठेकेदार और विभाग के द्वारा कोई मदद के लिए सामने नहीं आते.जबकी,विद्युत विभाग में कार्यरत ठेका कर्मचारी गर्मी, बारिश, ठंड, हवा तूफान, कोरोना संक्रमण काल, हर स्थिति में अपने कार्य को महज सात से आठ हजार में अपने हाई रिस्क कार्य को पूरे लगन से कर रहे हैं। संघ ने ऊर्जा मंत्री भूपेश बघेल से निवेदन किया है कि, ठेका प्रथा को समाप्त किया जाए एवं विद्युत विभाग में समायोजित कर देवे या फिर हमें डायरेक्ट विभाग से अनुबंधीत कर कार्य संचालन करे ढ्ढ पंजाब और हरियाणा सरकार के द्वारा कॉन्ट्रैक्ट कर्मचारी को दिए जा रहे वेतन के समान हमें भी वेतन दिया जाए।न्यूनतम 18000 रुपए वेतन दिया जाए एवं दुर्घटना बीमा,आकस्मिक मृत्यु बीमा दिया जाए, । मांगों पर जल्द से जल्द कोई फ़ैसला नहीं लेने पर विद्युत विभाग ठेका कर्मचारी कल्याण संघ को उग्र आंदोलन के लिए मजबूर होना पड़ेगा।


Share