बैकु΄ठपुर @शहर में चर्चा,आया-आया…बिल्डर आया…पुलिस को भी नहीं दिखा

499
Share

बिल्डर के बैकुंठपुर विश्राम भवन पहुंचने की खबर फैली…बिल्डर विधायकों से मिला…उड़ी अफवाह…

रवि सिंह-
बैकु΄ठपुर 25 नवम्बर 2021(घटती-घटना)। बिल्डर को फरार बता रही पुलिस कैसे नहीं पकड़ सकी बिल्डर को अब उठ रहा सवाल, बिल्डर न्यायालय भी पहुंचकर तारीख में हुए हाजिर यह भी खबरें आ रहीं सामने। बिल्डर को फरार बता रही पुलिस कैसे नहीं पकड़ सकी बिल्डर को अब उठ रहा सवाल। बिल्डर संजय अग्रवाल जल्द आ रहें हैं बैकुंठपुर, सोशल मीडिया पर भी चल रहा प्रचार। क्या सच में बिल्डर पहुंचे थे बैकुंठपुर, शामिल हुए न्यायालय की तारीख में? क्या सच में विधायकों से हुई विश्राम भवन में बिल्डर की मुकालात? सवाल बड़ा है क्योंकि विश्राम भवन के समीप ही जिला पुलिस प्रमुख का कार्यालय है। शहर में चर्चा आम है बैकुंठपुर के बिल्डर संजय अग्रवाल विगत दिनों बैकुंठपुर पहुंचे साथ ही उन्होंने 23 नवंबर 2021 की न्यायालय की तारीख पर अपनी उपस्थिति बैकुंठपुर न्यायालय में दर्ज कराई साथ ही वह स्थानीय शासकीय विश्राम गृह बैकुंठपुर भी पहुंचे और विधायकों से मुलाकात की यह खबरें खूब अफवाह बनकर उड़ीं और बताया जा रहा है यह खबरें सोशल मीडिया के माध्यम से जैसे ही वायरल हुई कई नगरवासी संजय अग्रवाल से मिलने विश्राम गृह भी पहुंचे यह भी खबर है और पहुंचने वालों से संजय अग्रवाल की मुलाकात हुई कि नहीं हुई यह तो नहीं पता चल सका लेकिन अफवाहों का बाजार पूरे दिन गर्म रहा।
संजय अग्रवाल भूमि संबंधी कई मामलों में फिलहाल खुद पर दर्ज अपराधों की वजह से न्यायालय में विचाराधीन मामलों से घिरे हुए हैं वहीं उन्हें पुलिस तलाश रही है कई मामलों में यह भी बताया जा रहा है जबकि स्वयं संजय अग्रवाल ने पूर्व पुलिस अधीक्षक कोरिया, उप पुलिस अधीक्षक कोरिया, पूर्व नगर निरीक्षक बैकुंठपुर सिटी कोतवाली, जल संसाधन विभाग के कई अधिकारियों सहित पुलिस विभाग के कई कर्मचारियों के विरुद्ध शिकायत दर्ज कराने उच्च पुलिस अधिकारियों सहित केंद्रीय गृह विभाग सहित राज्य गृह विभाग को भी शिकायत पत्र प्रेषित कर कार्यवाही की मांग की है वहीं उन्होंने शिकायत में खुद से 3 करोड़ की राशि वसूलने का भी आरोप फिरौती बतौर पूर्व पुलिस अधीक्षक सहित पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों पर आरोप लगाया गया है जिसका बाकायदा उन्होंने बैंक डिटेल भी शिकायत पत्र के साथ प्रेषित किया हुआ है और जिसपर स्थानीय उप पुलिस अधीक्षक कार्यालय बैकुंठपुर में ही जांच भी चल रही है और जिसमें संजय अग्रवाल के बयान लेने को लेकर कई बार उन्हें नोटिश भी भेजा जा चुका है और नोटिश का जवाब संजय अग्रवाल द्वारा डाक विभाग के माध्यम से भेजा जा चुका है और ऐसा इसलिए किया गया है क्योंकि स्वयं उपस्थित होकर बयान देने की स्थिति में संजय अग्रवाल की गिरफ्तारी हो सकती है यह बताया जाता है और उन्हें फरार भी बताया जाता है।

खुद को फरार नहीं मानते संजय अग्रवाल

बिल्डर संजय अग्रवाल खुद को फरार नहीं मानते उन्होंने घटती घटना को लिखे पत्र में इस बात का जिक्र किया था कि उनके ऊपर मामले दर्ज जरूर किये गए हैं लेकिन मामले न्यायालय में विचाराधीन हैं और निर्णय अभी लंबित है और निर्णय आने तक वह दोषी नहीं माने जा सकते यह उनका लोकतांत्रिक अधिकार है। भारत की न्याय प्रणाली पर भरोसा है और वह उसी के साथ आगे बढ़ना चाहते हैं, उनका यह भी मानना है कि उनके ऊपर लगे आरोप को लेकर न्यायालय बहुत बड़ा सहारा है जो उन्हें न्याय देगा कानून व्यवस्था को लेकर पूरी तरह आश्वस्त है। परेशानियों के बीच घिरे बिल्डर को कानून व्यवस्था पर भरोसा है ऐसा वह बता चुके हैं।

विश्राम गृह में विधायकों से मुलाकात की चर्चा शहर में रही जारी

संजय अग्रवाल दिनांक 23 नवम्बर 2021 को बैकुंठपुर लोक निर्माण विभाग के विश्राम भवन में विधायकों से मुलाकात करने पहुंचे और वहीं जल संसाधन विभाग के अधिकारियों पर प्रकरण वापस गेज नदी नहर अतिक्रमण का लेने दबाव बनाया गया यह खबर शहर की चर्चा में दिनभर शामिल रहा वहीं सोशल मीडिया पर भी सुर्खियां बना रहा लेकिन संजय अग्रवाल विश्रामगृह पहुंचे यह पुष्टि हो नहीं पाई क्योंकि कई लोग जो अफवाह स्वरूप फैली बातों को सुनकर विश्राम गृह पहुंचे उन्हें संजय अग्रवाल कहीं दिखाई नही दिए। वहीं विश्राम भवन से कुछ दूरी पर ही पुलिस अधीक्षक कार्यालय होने के बावजूद भी पुलिस भी अनजान रही कि संजय अग्रवाल आये या नहीं आये।

न्यायालय में भी उपस्थित हुए संजय अग्रवाल

अफवाह यह भी है कि दिनांक 23 नवम्बर 2021 को बिल्डर संजय अग्रवाल न्यायालय में भी उपस्थित हुए बताया यह भी जा रहा है उस दिन उनकी किसी मामले में न्यायालय में तारीख थी, न्यायालय पहुंचकर संजय अग्रवाल ने तारीख में खुद को उपस्थित किया और वह वहां से उपस्थिति देकर निकल भी गए यह भी अफवाह सुनने को मिला, जबकि बताया या भी जा रहा है कि पुलिस भी संजय अग्रवाल की गिरफ्तारी की राह तक रही थी और उन्हें यह मौका नहीं मिला, अब इन बातों में कितनी सच्चाई है इसकी पुष्टि घटती घटना नहीं करता।

संजय अग्रवाल के जल्द शहर वापसी की चर्चा

सोशल मीडिया पर संजय अग्रवाल की शहर वापसी की चर्चा आजकल जारी है संजय अग्रवाल से जुड़े लोगों द्वारा लगातार सोशल मिडीया पर संजय अग्रवाल की वापसी की खबरें डाली जा रहीं हैं और जिन्हें काफी लाइक और कमेंट भी मिल रहे हैं।


Share