बैकु΄ठपुर @ग्राम चनवारीडांड का मामलाःआदिवासी की भूमि पर गैर आदिवासी कब्जा, कलेक्टर से शिकायत

356
Share

  • रवि सिंह-
    बैकु΄ठपुर 23 नवम्बर 2021 (घटती-घटना)। माया कोल पति सुमित कोल व सुमित कोल आ0 सोना कोल निवासी वार्ड नं0 13 दफाई नं0 06 झगराखाण्ड ने कलेक्टर कोरिया को शिकायत कर कहा की ग्राम चनवारीडांड तहसील मनेन्द्रगढ़ जिला कोरिया की आदिवासी की भूमि पर गैर आदिवासी द्वारा कब्जा कर मकान निर्माण किये जाने पर कब्जा आवेदक को दिलाये जाने की शिकायत करते हुए कहा की। ग्राम चनवारीडांड प0ह0नं0 26, रा0नि0म0 एवं तहसील मनेन्द्रगढ़ की खसरा कं0 365 रकबा 0.46 हे0 भूमि गोपाल आ0 जगरनाथ कोल के स्वामित्व में मिसिल बंदोबस्त के समय से है। गोपाल की मृत्यु वर्ष 2013 में हो गयी उनके पुत्र मोतीलाल था जिनकी मृत्यु गोपाल के जीवनकाल में लगभग 25 वर्ष पूर्व हो गयी थी। मोतीलाल की पुत्री माया कोल पति सुमित कोल है। मोतीलाल की एक मात्र पुत्री श्रीमती माया कोल है तथा सुमित कोल उसका दमाद है। सुमित कोल घर जमाई बनकर गोपाल कोल के साथ निवास करता था और उसका सेवा करता था। इसलिये उपर वर्णित भूमि के भू-स्वामी माया एवं सुमित कोल दोनो है। पर रामेश्वर बर्मन आ श्यामलाल बर्मन रेलवे कर्मचारी था वर्तमान में सेवा निवृत्त है। रामेश्वर बर्मन ढीमर जाति का है और वह गैर आदिवासी है। रामेश्वर बर्मन ने राजस्व अधिकारी को मिलाकर उक्त आदिवासी की सम्पत्ति खसरा 365/3 रकबा 0.01 हे0 बुद्ध आ0 महादेव बैगा के नाम पर राजस्व- अभिलेखो में दर्ज करवाकर स्वयं उक्त भूमि पर काबिज होकर पक्का मकान दो संजिला बना लिया है। प्रार्थीगण के द्वारा मकान बनाते समय मना करने पर नहीं माना और आवेदकगण उनके कब्जे की भूमि से उनका गैर आदिवासी रामेश्वर वेदखल कर दिया है। रामेश्वर बर्मन गैर आदिवासी का मकान जो आवेदकगण की भूमि पर बना है उसे तोड़वाकर खाली जमीन को कब्जा आवेदकगण को दिलाये जाने की गुहार लगा रहे है।

Share