रायपुर @ वैट घटाने की मांग को लेकर बीजेपी नेताओं ने किया चक्काजाम

28
Share


तेल पर तकरार!,बृजमोहन अग्रवाल समेत कई गिरफ्तार
रायपुर,20 नवम्बर 2021 (ए)। भारतीय जनता पार्टी ने आज राजधानी रायपुर में पेट्रोल और डीजल के दामों में सरकार द्वारा लगाए जा रहे वैट की कमी को लेकर प्रदर्शन किया है। वैट काम करने की मांग को लेकर भाजपा के तमाम नेता चक्का जाम करने के लिए रैली की शक्ल में रवाना हुए।
रायपुर में बीजेपी के कई बड़े नेता गिरफ्तार कर लिए गए हैं। राज्य में पेट्रोल और डीजल पर वैट कम करने की मांग को लेकर सभी नेता राजधानी में प्रदर्शन कर रहे थे। बड़ी संख्या में पहुंचे बीजेपी नेताओं ने शास्त्री चौक पर चक्काजाम कर दिया. बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय, विधायक बृजमोहन अग्रवाल, सांसद सनील सोनी समेत कई बड़े नेताओं को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने पहले सभी को सड़क खाली करने की समझाइस दी, लेकिन प्रदर्शनकारी नहीं माने, इसके बाद स्थानीय पुलिस ने बीजेपी के कई बड़े नेताओं को गिरफ्तार कर लिया है।
केन्द्र सरकार द्वारा बीते 3 नवंबर को पेट्रोल और डीजल पर एक्साइज ड्यूटी कम कर दी गई थी, जिसके बाद से लगातार बीजेपी प्रदेश सरकार पर वैट कम करने का दबाव बना रही है। वैट कम करने को लेकर ही रणनीति बनाकर बीजेपी प्रदर्शन कर रही है। इसके तहत शनिवार को एकात्म परिसर में बीजेपी के प्रदेश स्तरीय नेता जुट और शात्री चौक तक पैदल ही रैली निकाली। इसके बाद यहीं सभी ने चक्काजाम कर दिया। चक्काजाम होने के कारण आम लोगों को आने-जाने में परेशानी का सामना करना पड़ा। पुलिस ने भीड़ हटाने के लिए मौके पर मौजूद बीजेपी के बड़े नेताओं की गिरफ्तारी की। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा कि, केंद्र सरकार ने कई दिनों पहले डीजल और पेट्रोल में अपना वैट कम कर दिया है, लेकिन यहां छत्तीसगढ़ की तानाशाह सरकार अभी भी वैट कम नहीं कर रही है। इसके खिलाफ आज भारतीय जनता पार्टी के तमाम कार्यकर्ता आज संकेतिक रूप से प्रदेश के हर जिला मुख्यालय में 2 घंटे का चक्का जाम किया है। इसके बाद भी अगर प्रदेश की सरकार डीजल और पेट्रोल के दाम में कम नहीं करेगी। तो इससे भी ज्यादा आक्रामक रूप से पार्टी आंदोलन करेगी।
बाकी मामलों में तो आदेश जारी
कर देते हैं : बृजमोहन
पेट्रोल डीजल के कीमतों में वैट घटाने को लेकर भाजपा के इस प्रदर्शन में पूर्व मंत्री और वरिष्ठ विधायक बृजमोहन अग्रवाल भी शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ भारत में ही एक राज्य है, और यहां बाकी राज्यों ने पेट्रोल-डीजल के दाम को कम कर दिया है। केंद्र की सरकार ने पेट्रोल डीजल के दाम को कम कर दिया है।
आखिऱ भूपेश बघेल कम क्यों नहीं कर रहे हैं? क्या उनका एक ही काम है,जनता को लूटना बाकी मामलों में तो आदेश जारी कर देते हैं, घोषणा कर देते हैं, पेट्रोल-डीजल के मामले में घोषणा क्यों नहीं कर रहे हैं? यह केवल जनता को लूटने का काम कर रहे हैं, और उसके विरोध में हम आज सड़क पर उतरकर चक्का जाम कर रहे है।
100 रुपये से ज्यादा बिक रहा पेट्रोल
बता दें कि केन्द्र सरकार द्वारा पेट्रोल डीजल पर एक्साइज ड्यूटी कम करने के बाद भी छत्तीसगढ़ में अब भी पेट्रोल प्रति लीटर 100 रुपये से ज्यादा की दर पर बिक रहा है। रायपुर में पेट्रोल 101.76 रुपये, दुर्ग में 102.52 रुपये प्रति लीटर की दर पर बिक रहा है। जबकि प्रदेश में डीजल की औसतन कीमत करीब 95 रुपये प्रति लीटर है। राज्य सरकार की ओर से भी वैट कम करने के संकेत दिए हैं। 22 नवंबर को होने वाली कैबिनेट की बैठक में इसपर निर्णय लिया जा सकता है।


Share